चक्रवात बुरेवी का कहर, कई राज्यों में भारी बारिश, हालात पर पीएम मोदी की नजर

चक्रवाती तूफान निवार के बाद अब एक तूफान उत्पात मचाने के लिए तैयार है। बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बन रहा है, इसके चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है। मौसम विभाग ने इसे लेकर अलर्ट जारी किया है। 

मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बन चुका है जिसकी वजह से केरल, पुडुचेरी और तमिलनाडु पर चक्रवात 'बुरेवी' (Cyclone Burevi) का खतरा मंडरा रहा है।  

चक्रवाती तूफान 'बुरेवी' को लेकर केरल, पुडुचेरी और तमिलनाडु में रेड अलर्ट जारी किया गया है। तूफान के केरल के तट से होकर गुजरने की संभावना है। इस तूफान से केरल के 7 जिलों के प्रभावित होने का अनुमान भी लगाया गया है। 

राज्य की राजधानी के अलावा कोल्लम, पठानमथिट्टा, कोट्टायम, अलाप्पुझा, इडुक्की और एर्नाकुलम जिलों में इस तूफान का असर देखे जाने की संभावना है।

हालत की गंभीरता को देखते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु और केरल के मुख्यमंत्रियों से बात की और चक्रवाती तूफान 'बुरेवी' के कारण इन राज्यों के कई हिस्सों में बन रहे हालात पर चर्चा की। साथ ही उन्होंने हालात से निपटने के लिए राज्य सरकार को हर संभव मदद का भरोसा दिया।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को तमिलनाडु और केरल के मुख्यमंत्रियों से बात की और चक्रवात बुरेवी के मद्देनजर केंद्र सरकार की ओर से हर संभव सहायता पहुंचाने का आश्वासन किया।

आज रात 12 बजे तक मदुरै हवाई अड्डे पर उड़ान सेवाएं निलंबित कर दी गई है। तूतीकोरिन हवाई अड्डा भी बंद रहेगा। 

IMD ने पुष्टि की है कि Cyclone 'Burevi' रामनाथपुरम तट तक पहुंचते-पहुंचते कमजोर हो गया है। देर रात तक उसी स्थान के आसपास लैंडफॉल की संभावना है। 

चक्रवाती तूफान निवार के मद्देनजर तमिलनाडु के 6 जिलों में अवकाश घोषित किया गया है।तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी समेत कई इलाकों में चक्रवात बुरेवी का खतरा मंडरा रहा है, इस बीच कई इलाकों में भारी बारिश का सिलसिला जारी है। 

Post a Comment

Previous Post Next Post