बारां में अस्पताल के प्रसूता वार्ड में नवजात बच्चों के बीच घूम रहे कुत्ते, परिजन बोले- बच्चों को नोंचने का खतरा

बारां जिले के कवाई कस्बे के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रसूता वार्ड में कुत्तों के आतंक से मरीज परेशानी हैं। यहां प्रसूता वार्ड में ही कुत्ते घूम रहे हैं। इससे नवजात बच्चों को नोंचने का खतरा रहता है। अस्पताल प्रबंधन को कई बार मरीजों ने शिकायत की, लेकिन कोई एक्शन नहीं हुआ।


अस्पताल में भर्ती मरीजों ने कहा कि दिन-रात वार्ड में आवारा कुत्ते घूमते रहते हैं। मरीजों के साथ आए परिजन बार-बार कुत्तों को खदेड़ते हैं। मरीजों का कहना है कि रात में कुत्तों के चलते नवजातों की रखवाली करनी पड़ती है। कई बार खाने पीने के सामानों को मुंह मारकर ले जाते हैं। दिनभर वार्ड में घूमते रहते हैं। जिसके चलते नवजात शिशुओं को नोंचने का खतरा बना रहता है।



अस्पताल में मरीजों के साथ आए लोगों को बार-बार कुत्तों को खदेड़ना पड़ता है।

वहीं, इस मामले में चिकित्सा प्रभारी डॉ. राजेश प्रजापति का कहना है कि अस्पताल में कई जगह से बाउंड्री टूटी हुई है। जहां से कुत्ते अस्पताल में आ जाते हैं। व्यवस्थाओं में सुधार किया जा रहा है।




मरीजों के बिस्तर के नीचे घूमते रहते हैं कुत्ते।

न चौकीदार, न साफ सफाई

अस्पताल पहुंचने लोगों का कहना था कि यहां न कोई चौकीदार है, न ही किसी तरह की साफ सफाई। आवारा कुत्ते आराम से घूमते रहते हैं। यहां व्यवस्था बिल्कुल भी ठीक नहीं है।

Post a Comment

Previous Post Next Post