यहां लड़कियों को रेप से बचाने के लिए बचपन में किया जाता हैं ऐसा खतरनाक काम, जानकर हिल जायेगा दिमाग

यहां लड़कियों को रेप से बचाने के लिए बचपन में किया जाता हैं ऐसा खतरनाक काम, जानकर  हिल जायेगा दिमाग

लड़कियां अक्सर प्रथाओं के नाम पर कुप्रथाओं की भेट चढ़ा दी जाती हैं। ऐसी ही एक अजीबो-गरीब प्रथा सामने आई। ये ख़बर देखने और सुनने में ही दिल दहला देने वाली है। खबर है कि लड़कियों का बलात्कार होने से बचाने के लिए अफ्रीका में एक दर्दनाक प्रथा का चलन है। वहां के लोगों का मानना है कि प्रथा का पालन करने से लड़कियों का रेप नहीं हो सकता और वो शादी से पहले गर्भवती नहीं होंगी। साथ ही कोई भी पुरुष लड़कियों पर बुरी नज़र नहीं डालेगा और वो सुरक्षित रहती हैं।

अफ्रीका के कई देशों जैसे साउथ अफ्रीका, कैमरून और नाइजीरिया जैसी जगहों पर लड़कियों को रेप से बचने के लिए उन्हें असहनीय पीड़ा और दर्द से गुजरना होता है। इस अनोखी प्रथा का नाम है 'ब्रेस्ट आयरनिंग', जिसमें किशोरावस्था के शुरू होते ही लड़कियों के ब्रेस्ट को गर्म लकड़ी के टुकड़ों से दागा जाता है, ताकि वे बढ़ न सकें और सपाट रहें।

ब्रेस्ट आयरनिंग' प्रथा में किशोरावस्था में ही लड़कियों के स्तन विकसित होने की प्रक्रिया को रोक दिया जाता है। लड़कियों के स्तनों को बढ़ने से रोकने के लिए उन्हें गर्म लोहे की छड़ों या गर्म पत्थर से दाग दिया जाता है, ताकि वो चपटे हो जाएं और बढ़ें नहीं। 10 साल से कम उम्र की कई लड़कियां भी हर रोज़ इस प्रथा का शिकार होती हैं। आपको जानकर बेहद हैरानी होगी कि लड़कियों की 'ब्रेस्ट आयरनिंग' कोई और नहीं बल्कि खुद लड़की की मां ही करती है।

'ब्रेस्ट आयरनिंग' के कारण महिलाओं को मानसिक एवं शारीरिक कष्टों का सामना करना पड़ता है। इनके स्तनों में दर्द होता है। चिकित्सकों का कहना है कि शरीर के संवदेनशील अंगों को इस तरह से दबाने से इन महिलाओं को कैंसर का खतरा हो सकता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post