अनोखी परम्परा : दूल्हा-दुल्हन को अपनी सुहागरात सबके सामने मनानी पडती है-=-.



भारत एक ऐसा देश है जहा पर अलग-अलग तरह के रीती रिवाज एवं परम्पराएं पाई जाती हैं। उनमे से कुछ तो ऐसी होती है जिनको जानकार उनपर विश्वास करने का मन नहीं करता। उन्ही परम्पराओं में से एक परम्परा के बारें में आज हम आपको बताने जा रहे है। आज कल शादी के बात पति पत्नी का हनीमून पर जाना एक रस्म बन चुकी है। भारत में शादी की पहली रात को काफी अहम रात माना जाता है। पहली रात को नए कपल को अकेले समय बिताने के लिए छोड़ दिया जाता है। परन्तु भारत में कई ऐसी जगह है जहाँ दूल्हा एवं दुल्हन को अपनी सुहागरात सबके सामने मनानी पडती है।
दरअसल, भारत में कंजरभाट नामक एक समुदाय है। जहाँ शादी की पहली रात को लड़का एवं लड़की को अकेला छोड़ने की बजह पूरा गाँव उनके कमरे के पास खड़ा रहता है। दरअसल, वह लोग इस दौरान लड़की की कौमार्य का निरिक्षण करते हैं। गौरतलब है कि यहाँ इतने पढ़े लिखे लोग होने के बावजूद भी आज तक इस परंपरा को निभाया जा रहा है। यदि लड़की गाँव वालों की नज़र में वर्जिन साबित हो जाये तो ठीक वरना उसके साथ कुत्तों से भी बुरा सलूक किया जाता है।

आपको ये जानकर हैरानी होगी कि कंजरभाट समुदाय के लोग भारत में तकरीबन हर जगह मौजूद है। इस नई पीढ़ी में जन्म लेने वाले बहुत सारे कंजरभाट लोग इस कुरीति का विरोध करते हैं। परन्तु, कोई भी इस परंपरा को रोक पाने में कामयाब नहीं होता। यहाँ का रिवाज़ है कि शादी की पहली रात दूल्हा एवं दुल्हन को एक होटल का कमरा बुक करके दिया जाता है एवं साथ ही उन्हें संबंध बनाने के लिए सफ़ेद चादर दी जाती है। इस कुरीति में दुल्हन के साथ शारीरक संबंध बनाने से पहले उसको सब गहने एवं कपडे उतारने को कहा जाता है।


Post a Comment

Previous Post Next Post