दूसरे समुदाय के युवक से शादी कर सुरक्षा मांगने पहुंची युवती, बोली-कट्टरपंथी हैं घरवाले, पति की करा सकते हैं हत्या



उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में दूसरे समुदाय के युवक से प्रेम विवाह करने वाली रिठौरा की युवती को अपने मायके वालों से खतरा महसूस हो रहा है। शनिवार को एसएसपी दफ्तर पहुंची युवती ने प्रार्थना पत्र देकर अंदेशा जताया कि उसके मायके वाले पति की हत्या करा सकते हैं।रिठौरा में रहने वाली युवती ने कुछ दिनों पहले दूसरे समुदाय के युवक के साथ शादी कर ली थी। युवती के भाई ने इस मामले में पहले बहन के पति समेत सात लोगों पर रिपोर्ट दर्ज करा दी थी लेकिन बाद में पुलिस को लिखकर दे दिया कि वह इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं चाहता है।

बहन ने उसकी बदनामी करा दी है लिहाजा यह जरूर चाहता है कि वह दोबारा कस्बे में आकर न रहे। शनिवार को युवती अपने पति और उसके धर्मपिता के साथ एसएसपी दफ्तर सुरक्षा मांगने पहुंची। उसने बताया कि उसके पिता, भाई और एक सभासद बेहद संकुचित विचारों के हैं और कट्टरपंथी विचारधारा में यकीन रखते हैं। उसे, पति और पति के धर्मपिता के लिए जान का खतरा बना हुआ है। उन लोगों को सुरक्षा की जरूरत है।

शर्मनाक: यूपी में सामूहिक दुष्कर्म की शिकायत लेकर थाने पहुंची महिला तो दारोगा ने भी किया शारीरिक शोषण उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में गुरुवार को एक कथित सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता ने एक पुलिस दारोगा पर दुष्कर्म का गंभीर आरोप लगाया है। पीड़िता ने बताया कि जब वह अपनी शिकायत दर्ज कराने के लिए पुलिस स्टेशन आई तब उसके साथ दारोगा ने यह सब किया। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक पीड़िता की शिकायत पर अपर पुलिस महानिदेशक, बरेली अविनाश चंद्र ने दारोगा के खिलाफ जांच का आदेश दिया है।

दुष्कर्म पीड़िता बुधवार को बरेली में एडीजी से मिली थी। इसके बाद उन्होंने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच के आदेश दिए हैं। जलालाबाद थाना क्षेत्र की रहने वाली 35 वर्षीय महिला ने बताया कि वह 30 नवंबर को जब पैदल मदनपुर जा रही थी। तभी एक कार में पांच आदमी आए और उसे जबरन कार में खींच लिया। इसके बाद पास के एक खेत में ले जाकर पांचों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। वारदात के बाद वह काफी घबरा गई थी। किसी तरह वह हिम्मत कर मामले की शिकायत लिखवाने पुलिस स्टेशन गई।

महिला जब अपनी शिकायत दर्ज कराने जलालाबाद पुलिस स्टेशन गई, तो वहां मौजूद एक दारोगा उसे अपने कमरे में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। घटना के बाद महिला एडीजी बरेली अविनाश चंद्र से मिली। एडीजी ने दारोगा के खिलाफ जांच का आदेश दिया। पुलिस क्षेत्राधिकारी ब्रह्मपाल सिंह ने कहा कि वह खुद इस मामले की जांच कर रहे हैं और आरोप सही हुए तो मुकदमा दर्ज कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।


Post a Comment

Previous Post Next Post