आक के पौधे में छिपा है कई गंभीर बीमारियों का इलाज, जानें कैसे कर सकते हैं इस्तेमाल

आक के पौधे को कई लोग मदार, अकवन या फिर अकोवा के नाम से भी जानते हैं। कई लोग इसे जहरीला पौधा भी कहते हैं, लेकिन यह कई बीमारियों को दूर करने की क्षमता रखता है। आज भी ज्यादातर लोग इस पौधे को अलग-अलग तरीके से इस्तेमाल करते हैं। हालांकि ज्यादातर लोग घरेलू उपाय के तौर पर मदार के पत्ते का इस्तेमाल करते हैं जबकि इसके फूल का इस्तेमाल भगवान शिव की पूजा के दौरान खूब किया जाता है। इसके अलावा घर में हो रहे शुभ कार्य के दौरान भी इसके फूलों का इस्तेमाल किया जाता है।


वहीं अगर आक के पत्ते को तोड़ रही हैं तो सावधानी जरूर बरतें क्योंकि कई बार इससे निकलने वाला दूध आपकी आंखों में चला जाता है, जिससे नुकसान पहुंच सकता है। वहीं इसके पत्तों का इस्तेमाल ऑयल या फिर औषधी के रूप में भी किया जाता है। आइए जानते हैं आक के पौधों को किन-किन बीमारियों को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।
खुजली की समस्या




अगर आपको एलर्जी, खुजली या फिर स्किन ड्राई होने जैसी समस्या है तो आक के पौधे का इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके लिए आप इसकी जड़ों को जला लें और उसकी राख को सरसों के तेल में मिक्स कर लें। अब इसे खुजली या फिर एलर्जी वाली जगह पर लगाएं। इससे आपको खुजली से राहत मिल सकती हैं। वहीं अगर एलर्जी की समस्या आपको काफी समय से है तो ऐसा करने से पहले डॉक्टर से परामर्श लें।
ज्वाइंट पेन से पाएं छुटकारा



आक के पत्ते सूजन कम करने के लिए भी सहायक माने जाते हैं। अगर आपको ज्वाइंट पेन की समस्या है तो इसके पत्तों का इस्तेमाल जरूर करें। इसके लिए सिर्फ आपको पत्तों को गर्म कर के ज्वाइंट वाले हिस्से पर लगाकर बांधना होगा। कुछ घंटे तक ऐसे ही रहने दें, इससे आपको काफी फर्क नजर आएगा। वहीं सोने से पहले इन पत्तों को बाहर निकाल दें। सर्दियों में अगर सर्दी-खांसी की समस्या से परेशान हैं और लगातार खांसने की वजह से सीने में दर्द होने लगता है तो आप इसके पत्ते का इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके लिए पत्तों पर तेल लगाकर हल्का गर्म कर लें और उसे अपनी छाती पर लगाएं और टॉवेल से ढक दें। थोड़ी देर बाद इसे हटा दें, इससे आपको काफी राहत मिलेगी।

डायबिटीज के लिए है कारगर



डायबिटीज की समस्या से परेशान है तो आक के पत्तों को ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके लिए आक के पत्तों को पैरों के नीचे यानी तलवे पर रख दें और मौजा पहन लें। वहीं रात में सोते समय मोजा और मदार के पत्तों दोनों को निकाल कर सोए। यह तरीका शुगर कंट्रोल करने के लिए सहायक माना जाता है। आप चाहें तो इसे घर में ट्राई कर के देख सकती हैं।


चोट के दर्द से पाएं राहत

शरीर के किसी हिस्से में अगर आपको चोट लगी है तो इसके पत्तों का इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके लिए सिर्फ मदार के पत्तों को गर्म करके चोट लगे स्थान पर तेल लगा कर बांध लें। कुछ देर बाद आपको दर्द से राहत मिलेगी। वहीं चोट वाले स्थान से खून निकल रहा है तो सिर्फ आक के पत्ते को बांध लें। इससे खून निकलना बंद हो जाएगा और दर्द से भी राहत मिलेगी।

कई बार चलते-चलते या फिर अन्य किसी वजह से पैरों में छाले हो जाते हैं, तो इसके लिए भी आप चाहें तो आक के पौधे को औषधी के रूप में इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके लिए आक के दूध को छाले वाले स्थान पर लगा दें। इससे आपको तुरंत राहत मिलेगी। कई लोग इसके दूध को दांत दर्द से छुटकारा पाने के लिए भी इस्तेमाल करते हैं। दांत दर्द से राहत पाने के लिए इसके दूध को मसूड़े पर लगा लें। दर्द थोड़ी देर में गायब हो जाएगा।

वैसे यह घरेलू तरीके पूरी तरह से प्राकृतिक है, लेकिन अगर आप चाहें तो इस्तेमाल करने से पहले किसी एक्सपर्ट या फिर डॉक्टर से परामर्श लें सकती हैं। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें, और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Post a Comment

Previous Post Next Post