हैवानियत की हदें पार : ससुराल वालों ने विवाहिता को कुर्सी से बांधकर जिंदा जलाया

Mother And Daughter Fire Burn Police Crime - आग से जलती मां की गोद में बैठ  गई 5 साल की मासूम बेटी, डरा देगी मां-बेटी की मौत की यह खबर | Patrika News

वैशाली। बिहार में वैशाली जिले के गोरौल थाने स्थित वभनटोली गांव में सोमवार की शाम ससुराल वालों ने विवाहिता को कुर्सी से बांधकर केरोसिन उड़ेल जिंदा जला दिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। मृतका 30 वर्षीय खुशबू देवी गांव के सोनू कुमार की पत्नी थी। पहले पति की मौत के बाद तीन साल पहले उसने सोनू से दूसरी शादी की थी। ससुराल वाले उसपर मायके से अक्सर पैसा मांगकर लाने का दबाव बनाते थे। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए हाजीपुर के सदर अस्पताल भेजा।

मृतका की मां वैशाली जिला के देसरी के धर्मपुर निवासी कलवा देवी ने ससुराल वालों पर रुपये के लिए जलाकर मार डालने का आरोप लगाया है। पति के अलावा दो जेठ, एक गोतनी व ससुर के खिलाफ गोरौल थाने में हत्या की एफआईआर दर्ज कराई है। थानाध्यक्ष अनिल कुमार ने बताया कि कमरे में महिला की जली हुई लाश मिली थी। मृतका की मां के आवेदन पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है। आगे की कार्रवाई की जा रही है। फिलहाल आरोपित घर छोड़कर फरार हैं।

घटना के बारे में कलवा देवी ने पुलिस को बताया कि ससुराल वालों ने कुर्सी से बांधकर केरोसिन उड़ेलकर जिंदा जला दिया है। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि ससुराल वाले हमेशा मेरी पुत्री को मायके से रुपये मांगकर लाने के लिए दबाव बनाते थे। कुछ माह पूर्व भी उन्होंने 30 हजार रुपये अपने दामाद को दिया था। यह भी आरोप लगाया कि और पैसे की मांग को लेकर उसके पति, दोनों जेठ, गोतनी व ससुर काफी प्रताड़ित करते थे। सोमवार को भी दिन में इसी बात को लेकर घर में विवाद हुआ था। शाम को जिंदा जलाकर मार दिया गया।उन्होंने बताया कि उनके पुत्री खुशबू देवी के पहले पति की मौत के बाद दूसरी शादी तीन साल पहले रुसूलपुर इनायत के किसान सोनू कुमार से न्यायालय में की गई थी। उस वक्त उपहार स्वरूप बाइक, आभूषण बर्तन, नगद रुपये भी दिये गए थे। खुशबू के दो बच्चे भी हैं। थानाध्यक्ष अनिल कुमार ने बताया कि अवर निरीक्षक संजय कुमार सिंह को घटना की जांच के लिए भेजा गया है। इसकी छानबीन की जा रही है।

Post a Comment

Previous Post Next Post