चीटियों को आटा खिलाने से दूर होती है गरीबी-/-`




किसी को भी खाना खिलाना शुभ माना जाता है। भगवान शनि की कृपा से श्रद्धालुओं के क्लेषों और पापों का नाश होता है। शनि देव के मंदिरों में दर्शन करने के पूर्व श्रद्धालु स्नान करते हैं और भगवान को पवित्र सामग्री अर्पित करते हैं।

चीटियों को आटा:

यही नहीं भगवान को प्रसन्न करने के लिए और सारे क्लेशों का नाश करने के लिए श्रद्धालुओं को चीटियों को आटा खिलाने का विधान बताया जाता है।

क्लेशों का नाश:

चीटिंयों के लिए आटा डालने से क्लेशों का नाश होता है दूसरी ओर गरीब को भोजन दान देने से सुखों की प्राप्ति होती है। शनि पीड़ा से मुक्ति के लिए श्रद्धालु पनौति के तौर पर अपने पुराने जूते, चप्पल और वस्त्र आदि शनि देव के मंदिर में त्यागकर नए वस्त्र, परिधान और जूते – चप्पल पहनते हैं। मान्यता है कि इससे उनके दुखों का नाश होता है और उन्हें सुख – समृद्धि की प्राप्ति होती है।


Post a Comment

Previous Post Next Post