सडक किनारे से ली मात्र 850 रूपये में अंगूठी, 30 साल बाद पता चला और बन गयी करोड़पति~!




वह महिला करीब 30 सालों से उस खरीदी गई अंगूठी को पहन रही थी। लेकिन इतने सालों के बाद जब महिला को नकली खरीदी गई अंगूठी की सच्चाई का पता चला तो उसको तो अपनी आँखों पर विस्वास ही नहीं हो रहा था, सच्चाई सुन चक्कर आने लगे।

महिला बताई हमे हीरो का अंगूठी पहनने का मन था, लेकिन मेरे पास उतने पैसे नहीं थी इस लिए मैंने मार्केट से 850 रुपये में हीरे जैसी दिखने वाली आर्टिफिशियल अंगूठी खरीद कर लाई थी। और तब से अबतक 30 सालों से पहन रही हु। फिर एक दिन महिला इस अंगूठी को बेचने की सोची और एक ब्यक्ति के पास अंगूठी को बात कही, अंगूठी को देखने के बाद उस ब्यक्ति ने पूछा आप इसे क्यों बेचना चाहती है। जिस पर महिला बोली इस अंगूठी में लगा नग नकली है इस वजह से सिर्फ अंगूठी बेचना चाह रही हु।

वह ब्यक्ति कोई और नहीं वल्कि हिरे की एक अच्छी परख रखने वाला जौहरी था। उसने महिला को बताया जिसे अंगूठी को वो नकली समझ कर पिछले 30 सालों तसे पहनती आ रही है, वो दरअसल असली हीरे की अंगूठी है। महिला को यह सुनकर मानो होस उड़ गए। उसको तो यकीन ही नहीं हो पा रहा था। लेकिन जब जौहरी ने दुबारा कहा मै कोई मजाक नहीं कर रहा यह बाकई असली हिरे की अंगूठी है। महिला को तो हाल ऐसा हो गया की वो कुछ बोल ही नहीं पा रही थी मानो उसे चक्कर आरहे हो।

थोड़ी देर बाद महिला को आराम करने के बाद जौहरी ने बताया कि उसकी अंगूठी पूरे 26.27-k कैरट की असली डायमंड की अंगूठी है। इसके बाद महिला ने अंगूठी वहा पर नहीं बेचीं और शहर के हीरों के एक्सपर्ट से मिलने पहुंची, वहाँ पर भी असली डायमंड बताया गया, उसने सलाह दी की आप बेचना चाहते है तो इसे नीलाम करवाए। क्योकि यह बहुत ही प्राचीन हिरा है। फिर महिला ने जब नीलामी करवाई तो इस हिरे की अंगूठी की बोली 6 करोड़ रू लगा, और टैक्स काटने के बाद महिला को करीब 4.5 करोड़ रुपये मिले

Post a Comment

Previous Post Next Post