बेटी की शादी में केंद्र और राज्य सरकार देगी 1 तोला सोना, जानिये कैसे मिलेगा लाभ

सरकार का बड़ा ऐलान, एक जनवरी से शादी में दुल्हन को देगी एक तोला सोना, बस  करना होगा ये काम – Hindi Magzian


देश की केंद्र और राज्य सरकारें अक्सर बेटियों के बेहतर भविष्य के लिए नई-नई स्कीम लाती रहती हैं. इसमें लाडली योजना, सुकन्या योजना जैसी ना जाने कितनी मुहीम बेटियों के लिए देश में लागू हो रखी हैं. लेकिन फिर भी बेटियों की शादी के दौरान माता-पिता की सबसे बड़ी चिंता उसके लिए गहने और आभूषण तैयार कराने को रहती है और सोने की कीमतें लगातार इतनी तेजी से बढ़ रही हैं कि हर कोई उसे आसानी से नहीं खरीद सकता. लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि अब आप अपनी बेटी की शादी करेंगे तो सरकार 10 ग्राम सोना देगी. चौकिंये मत अब हम आपको बताते हैं कि आप कैसे उठा सकते हैं इस योजना का लाभ.

दरअसल, जानकारी के मुताबिक असम की सरकार ने बेटी की शादी के दौरान उसके माता-पिता की मदद करने के लिए एक अहम योजना शुरू की है. इसका नाम अरुंधति गोल्ड स्कीम रखा गया है. इस योजना के तहत सरकार बेटी की शादी पर 10 ग्राम सोना देती है, लेकिन इसके लिए कुछ नियम व शर्तों का पालन करना पड़ता है.

अब आप सोच रहे होंगे कि ये कैसे मुमकिन होगा तो बता दें कि असम सरकार की अरुंधति गोल्ड स्कीम का फायदा उठाने के लिए आपको कुछ नियमों का पालन करना होगा.

1. सबसे पहले इस योजना का फायदा लेने के लिए लड़की की उम्र कम से कम 18 साल होनी चाहिए. और 10वीं तक पढ़ी लिखी होनी चाहिए .

2. योजना में आवेदन करने से पहले बेटी की शादी का रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है. इसके लिए शादी स्पेशल मैरिज एक्ट, 1954 के तहत पंजीकृत होनी चाहिए. वहीं, जिस दिन पंजीकरण होगा, उसी दिन लड़की को योजना के लिए आवेदन करना होगा.

3. लड़की के पूरे परिवार की सालाना कमाई 5 लाख रुपये से कम होनी चाहिए.

4 इस योजना का फायदा पहली बार शादी करने पर ही मिलेगा.

5 योजना के नियम के मुताबिक लड़के की उम्र कम से कम 21 साल होनी चाहिए.

मिली जानकारी के मुताबिक, असम सरकार ने इस योजना की शुरुआत गरीब परिवारों की मदद करने के मकसद से की है. इस योजना का उद्देश्य आर्थिक तौर पर कमजोर परिवार को राहत देना है. इसके साथ ही असम सरकार की इस अरुंधति गोल्ड योजना के लिए आवेदन का तरीका काफी आसान है. इसके लिए आवेदक को राज्य सरकार की वेबसाइट पर पंजीकरण कराना होगा.

योजना का लाभ उठाने के लिए असम सरकार की वेबसाइट revenueassam.nic.in. पर ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा.

इस ऑनलाइन फॉर्म को पूरी तरह भरने के बाद उसका प्रिंटआउट भी निकालना होगा, जिसे रेवेन्यू विभाग में जमा कराना पड़ता है.

फॉर्म जमा होने के बाद आवेदक लड़की को एक रसीद भी दी जाती है. आवेदन स्वीकार हुआ है या नहीं, इसकी जानकारी आवेदक को एसएमएस के माध्यम से मिलती है. आवेदन स्वीकार होने के बाद योग्यता के हिसाब से सोने की वर्तमान कीमत के बराबर रुपये आवेदक के खाते में जमा कर दिए जाते हैं.

Post a Comment

Previous Post Next Post