स्त्री के इस अंग को छूने से आप बन जाएंगे, दुनिया के सबसे बड़े पुण्य के हक़दार


आज कुछ बाते हम आपकों ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बताते है। महिलाएं असल में सम्मान की हकदार होती है क्युकी वह बिना पैसे लिए अलग-अलग रूपों में हमारी सेवा करती हैं। स्त्रियों को लेकर सबसे बड़ी बात ये है कि स्त्री, पुरुष को तन, मन और धन से अपना मान कर उसकी हर परेशानी का समाधान करती है। चलिए आज हम आपको स्त्रियों से जुड़ी हुई कुछ खास बातें बताते है, जिसके अनुसार आप असल पुण्य की प्राप्ति कर सकते हैं। स्त्रियों का अभिवादन करने के लिए स्त्रियों के चरण छूने की परंपरा सदियों से चली आ रही है।

बताया गया है कि जब हम किसी व्यक्ति के चरण छूते हैं, तो इससे उस पूजनीय व्यक्ति की सकारात्मक ऊर्जा आशीर्वाद के रूप में हमारे शरीर में प्रवेश करती है। इससे हमारा मानसिक विकास होता है। अपनी मां बहन या बेटी के चरण स्पर्श और चरण वंदना करना भारतीय संस्कृति में सभ्यता और सदाचार का प्रतीक है।

आप अपनी दादी, नानी और काकी के चरण छूने से प्रतिकूल ग्रह अनुकूल कर सकते हैं। जिन स्त्रियों के पैर छुए जाते हैं, उनके लिए शास्त्रों में कई तरह के नियम भी बनाए गए हैं। चरण और आचरण दोनों शब्द ही एक दूसरे से मिलते जुलते हैं, इसीलिए जब भी आप किसी स्त्री के चरण स्पर्श करें तो ध्यान रहे कि उस स्त्री का आचरण अच्छा हो। जब आप किसी अच्छे आचरण वाली स्त्री के चरण स्पर्श करेंगे तभी आपको उस स्त्री से सकारात्मक ऊर्जा की प्राप्ति होगी तथा आप पुण्य के हक़दार बन जाएंगे।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...