हमेशा के लिए दूर हो जाएंगे जीवन के सभी दुख, ऐसे इस्तेमाल करो काले घोड़े की नाल

 


हमेशा के लिए दूर हो जाएंगे जीवन के सभी दुख, ऐसे इस्तेमाल करो काले घोड़े की नाल

ज्योतिष व वास्तुशास्त्र के अनुसार, जीवन में परेशानियों के होने का कारण वास्तुदोष और ग्रहों का अनुकूल न होना हो सकता है। इसतरह जीवन के हर एक मोड़ पर असफलता का सामना करने के साथ कभी- कभी व्यक्ति डिप्रेशन में जाने लगता है। ऐसे में इससे बचने के लिए घोड़े की नाल का प्रयोग करना फायदेमंद हो सकता है। माना जाता है कि इसकी अंगूठी तैयार कर पहने से धन न अन्न से जुड़ी परेशानियों से छुटकारा मिलने के साथ तरक्की के रास्ते खुलते हैं। तो चलिए जानते हैं इसे पहनने से मिलने वाले अन्य फायदों के बारे में...

- ग्रहों का भी जीवन में चल रही परेशानियों से गहरा संबंध होता है। ऐसे में घोड़े की नाल से तैयार अंगूठी पहनने से ग्रहदोष दूर होते हैं। साथ ही घोड़े की नाल का संबंध शनिदेव से होने से शनिदोष दूर हो उनकी कृपा मिलती है। 

- काले घोड़े की नाल से अंगूठी बनाकर पहनने से घर में सुख- समृद्धि व शांति होने के साथ अन्न व धन की कोई कमी नहीं होती है। इसके साथ घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। 

- ज्‍योतिष और वास्तुशास्त्र के अनुसार, घर के मेन गेट पर घोड़े की नाल को अग्रेंजी के यू अक्षर के आकार पर लगाने से घर पर चल रहा तनाव व लड़ाई- झगड़ों से भी छुटकारा मिलता है। रिश्तों में मिठास आने से घर के सदस्यों में प्यार बढ़ता है। 

- अगर आपको जीवन में बहुत- सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है तो ऐसे में काले घोड़े की नाल से तैयार कड़ा पहनने से लाभ मिलेगा। इससे जीवन में चल रही सभी मुश्किलों का हल मिलने के साथ घर- परिवार में एकता व खुशियों भरा माहौल बना रहेगा। 

- आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में बेहद लोग तनाव व स्ट्रेस के शिकार है। ऐसे में इससे छुटकारा पाने के लिए घोड़े की नाल की अंगूठी पहनने से डिप्रेशन कम होने में मदद मिलेगी। माना जाता है कि इसे धारण करने से स्ट्रेस कम होने के साथ जीवन में तरक्की के रास्ते खुलते है। 

- अगर बहुत मेहनत करने पर भी आपको सफलता नहीं मिल रही है तो ऐसे में घोड़े की नाल की अंगूठी पहनने से लाभ मिल सकता है। इसके साथ ही जिन बच्चों का पढ़ाई में मन नहीं लगता उन्हें भी इस अंगूठी को पहनना चाहिए। 

- ज्योतिष व वास्तुशास्त्र ही नहीं बल्कि वैज्ञानिक तथ्यों के मुताबिक भी घोड़े की नाल को धारण करने से फायदा मिलता है। इससे शरीर में खून का प्रवाह बेहतर तरीके से होने के साथ आयरन की कमी दूर होती है। मानसिक परेशानियां दूर होने के साथ अच्छी व गहरी नींद आने में मदद मिलती है। 

- इसे धारण करने के लिए शनिवार का दिन सबसे उत्तम माना जाता है। इस दिन हाथ की मध्यमा यानी बीच की अंगुली में ही इस अंगूठी को पहनना चाहिए। मगर सब की राशियां अलग होती है। ऐसे में इसे पहनने से पहले एक बार किसी ज्योतिष की राय देना न भूलें। 

Post a Comment

Previous Post Next Post