गलत दिशा में लगे पेड़-पौधे बना सकते हैं कंगाल, जरूर रखें इन बातों का ख्याल

गलत दिशा में लगे पेड़-पौधे बना सकते हैं कंगाल, जरूर रखें इन बातों का ख्याल

पेड़-पौधे व्यक्ति को प्रकृति से जोड़ते हैं, इसलिए अधिकतर लोग घर में पेड़-पौधे लगाना पसंद करता है. वहीं, वास्तु शास्त्र (Vastu Shastra) में भी विभिन्न पेड़-पौधा का एक अलग ही महत्व माना जाता है. घर में पेड़-पौधे लगने से सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है. वास्तु के मुताबिक पेड़-पौधे अगर सही दिशा मे लगाए जाएं तो घर के वास्तु दोष दूर करते हैं, वहीं अगर पौधे गलत दिशा में लगे हों तो आपको कंगाल भी बना सकते हैं. 

वास्तु शास्त्र (Vastu Shastra) में घर में पेड़-पौधे लगाने के लिए भी एक निर्धारित दिशा बताई गई है. वास्तु के अनुसार कांटों वाले पेड़-पौधे घर में नहीं लगाने चाहिए. आइए जानते हैं पेड़-पौधे से जुड़े खास वास्तु टिप्स.

*घर की दक्षिण दिशा में पाकड़ और कांटेदार पेड़ लगाने से घर में रोग पनपते हैं.

*घर के उत्तर में गूलर और नींबू का पेड़ होने से आंखों से संबंधित बीमारियां होती हैं.

* मुख्य द्वार के सामने पेड़ कभी भी न लगाएं. अगर लगाना हो तो श्वेतार्क मुख्य द्वार पर लगाना वास्तु की दृष्टि से शुभ होता है.

* जिस वृक्ष में कांटे, फल एवं दुग्ध-तीनों का सम्मिश्रण हो, वह जनहानि का कारण बनता है. ऐसे पौधे घर के अंदर नहीं बल्कि बाहर लगाने चाहिए.

* घर में काटों वाले पौधे नहीं लगाएं. गुलाब के अलावा अन्य काटों वाले पौधे घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवाहित करते हैं.

* तुलसी (Tulsi) का पौधा घर में लगाना शुभ माना जाता है. तुलसी का पौधा वास्तु दोषों को खत्म कर देता है.

*तुलसी के पौधों से होकर आने वाली वायु में सकारात्मक ऊर्जा बढ़ जाती है. साथ ही ये शुद्ध व स्वास्थ्यवर्धक भी हो जाती है.

* घर पश्चिम और दक्षिणमुखी होने की दशा में मुख्य द्वार की ओर बड़े-बड़े पेड़-पौधों समेत लताओं वाले पौधे लगाए जा सकते हैं.

* केले के पेड़ को ईशान या उत्तर में लगाने से घर में सुख, शांति और समृद्धि आती है.

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...