बड़े काम की है झाड़ू,धनवान बनाती है, तो कंगाल भी...क्या करें, क्या नहीं? यहां जानिए

बड़े काम की है झाड़ू,धनवान बनाती है, तो कंगाल भी...क्या करें, क्या नहीं? यहां जानिए

शास्त्रों के अनुसार झाड़ू को धन की देवी महालक्ष्मी का प्रतीक मानते हुए झाडू़ को उचित और साफ -सुथरी जगह पर रखने को कहा गया है। कहते हैं कि नियमित रूप से प्रात: और सायं काल में घर और कार्यस्थल की झाडृू से सफाई करने से स्वच्छता के साथ धन की प्राप्ति भी होती है। यही वजह है कि सुबह झाडू़ लगाने की परंपरा घरों में है। जिन घरों में नियमित रूप से झाड़ू नहीं लगाई जाती, वहां दरिद्रता निवास करती है। झाडू़ को महालक्ष्मीजी का प्रतीक मानने वालों के अनुसार, झाडू़ को कभी पैर नहीं लगाने चाहिए। झाड़ू का उपयोग पूरा होने के बाद उसे किसी ऐसे सुरक्षित स्थान पर रख देना चाहिए, जहां इस पर किसी की नजर न पड़े।

ऐसे करें झाड़ू का सम्मान...

मान्यता है कि अपवित्र, गंदे और पानी वाले स्थान पर झाड़ू को नहीं रखना चाहिए। दीवार के सहारे भी झाड़ू को खड़ी नहीं रखते। घर, दुकान या कार्यस्थल आदि की सफाई में काम आने वाले झाडू़ से भूल कर भी सड़क, नाली या मल-मूत्र की सफाई नहीं करनी चाहिए। घर के किसी सदस्य या मेहमान के जाने के तुरंत बाद झाड़ू लगाना अशुभ माना जाता है। घर के मुख्य दरवाजा के पीछे एक छोटी झाड़ू टांगकर रखना चाहिए। इससे घर में लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है। वास्तु अनुसार, पूजा घर को साफ करने के लिए एक अलग से साफ कपड़े को रखें।

झाड़ू के मान-सम्मान से घटती-बढ़ती हैं घर की आमदनी..

वास्तु की मान्यता है कि घर के कचरे में कई प्रकार की नकारात्मक शक्तियां विद्यमान होती हैं, जो घर और वहां रहने वाले सभी सदस्यों पर बुरा प्रभाव डालती हैं। इसके साथ ही परिवार की सुख-शांति में भी परेशानियां उत्पन्न हो जाती हैं। इनसे निजात पाने के लिए घर को एकदम साफ और स्वच्छ रखने के लिए झाड़ू का इस्तेमाल किया जाना चाहिए। इसका किसी भी प्रकार से अनादर नहीं होना चाहिए। यदि घर में झाड़ू सबके सामने रखा जाता है, तो कई बार अन्य लोगों के पैर उस पर लगते हैं, जो कि अशुभ है। इससे घर पर बुरी शक्तियों का प्रभाव बढ़़ता है और धन संबंधी परेशानियां भी बढ़ती हैं।

लोगों की नजरों से छुपाकर रखें झाड़ू...

इसी वजह से झाड़ू को एक तरफ छुपाकर रखना चाहिए, जहां किसी की नजर ना पहुंच सके। झाड़ू को दरवाजे के पीछे रखना काफी शुभ माना गया है। देवी लक्ष्मी का पूरा सम्मान करने पर ही वे हमारे घर पर कृपा बनाए रखेंगी। शास्त्रों के अनुसार, धन से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर करने के लिए धन की देवी महालक्ष्मी की आराधना श्रेष्ठ उपाय है। इसके साथ ही सभी के घर में साफ-सफाई के लिए झाड़ू अवश्य ही होती है। झाड़ू को महालक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है, जो गंदगी और धूल मिट्टी में निवास करने वाली दरिद्रता को रोज हमारे घर से बाहर करती है। वास्तु के अनुसार भी ऐसी मान्यता है कि यदि झाड़ू बाहर दिखाई देती है, तो घर में कलह होता है। विद्वानों के अनुसार झाड़ू पर पैर लगने से महालक्ष्मी का अनादर होता है।

झाड़ू को लेकर कुछ खास बातें, जिन्हें अपनाएंगे, तो जीवन में कभी धन की नहीं होगी कमी...

-झाड़ू को कभी भी खड़ा नहीं रखना चाहिए।

-ध्यान रहे झाड़ू पर जाने-अनजाने पैर नहीं लगने चाहिए, इससे महालक्ष्मी का अपमान होता है।

-झाड़ू हमेशा साफ रखें , गीला न छोड़ें ।

-ज्यादा पुरानी झाड़ू को घर में न रखें।

-झााड़ू को कभी घर के बाहर बिखेरकर न फेंकें, झाड़ू को कभी जलाना नहीं चाहिए।

-शनिवार को पुरानी झाड़ू बदल देना चाहिए।

-सपने मे झाड़ू देखने का मतलब है नुकसान

- उत्तर-पूर्व कोने में न झाड़ू रखें, ना ही कूड़ा-करकट। इस दिशा को हमेशा साफ-सुथरा रखें। पूजा घर में झाड़ू की बजाय सफाई के लिए कपड़े का इस्तेमाल करना चाहिए।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...