बिच्छू के काटने पर तुरंत करें ये काम, मिनटों मे उतर जायेगा ज़हर

बिच्छू के काटने पर तुरंत करें ये काम, मिनटों मे उतर जायेगा ज़हर

बिच्छू के काटने पर तुरंत करें ये काम, मिनटों मे उतर जायेगा ज़हर

दोस्तों, कड़ाके की सर्दियों के बाद जितने भी छुपे हुए विषैले कीड़े मकौड़े होते है गर्मि का मौसम आते ही वो सब के सब बाहर निकालने लगते है। अक्सर सड़को पर या कभी कभी ग्रामीण इलाको मे घर के आंगन मे भी ये कीड़े मकौड़े देखने को मिल जाते है। फिर ये मौसम के अनुसार जहा भी इन्हें स्थान मिलता है वही अपना घर बना लेते है।

ये कीड़े बहोत खतरनाक होते है। अगर ये एक बार काट ले तो असहनीय दर्द होता है, और कई कीड़े तो ऐसे भी होते है जिसके काट लेने से शरीर मे इंफेक्शन फैल जाता है।

दोस्तों, उन किड़ो मे से बिच्छू भी एक ज़हरीला कीड़ा है, जिसके काटने पर इंसान रोने पर मज़बूर हो जाता है। असहनीय दर्द और पीड़ा से इंसान बेचैन हो जाता है। कई बिच्छू तो ऐसे भी होते है जिनके काट लेने पर बुखार आ जाता है और मौत तक हो जाती है। ये ज्यादा तर ब्लैक स्कोरपिअन के काटने से ऐसा हो सकता है।

लेकिन दोस्तों, कुछ ऐसे भी सिद्ध नुस्खे है जो बिच्छू के ज़हर को चुटकियो मे उतार देता है। चाहे कोई भी बिच्छू काट ले, कितना भी ज़हरीला हो इन उपायो से मिनटों मे ज़हर का असर खत्म हो जाएगा और रोता हुआ व्यक्ति हँसने लगेगा। तो आईये जानते है वो कौन से उपाय है।

अगर आपके पास इमली हो तो उसका बीज निकाल लें, फिर उसे एक पत्थर पर थोड़ा सा पानी डाल कर एक साइड को घिस लें। घिसने पर आपको उसके अंदर का सफेद गुदा दिखाई देगा। अब इसे शरीर के उस स्थान पर चिपका दें जहा पर बिच्छू ने काटा है। चिपकाने के चंद मिनट बाद ही ज़हर का असर खत्म हो जायेगा, जलन दर्द और सूजन खत्म हो जायेगा। व्यक्ति बिल्कुल ठीक हो जायेगा।

दूसरा उपाय- पिसा हुआ प्याज और पीसा हुआ सेंधा नमक को मिला कर काटे हुए स्थान पर लगा दें। ऐसा करने से ज़हर उतर जाता है। 2-3 माचिस की तीलियों से उसका बारूद निकाल कर काटे हुए स्थान पर लगाने से भी ज़हर उतर जाता है।

तीसरा उपाय- अगर आप ग्रामीण इलाके मे रहते हो और आपके आस पास कोई महुआ का पेड़ है, तो जल्दी से किसी डाली से एक पत्ती तोड़ कर लाये और उसमे से सफेद रस निकाल कर काटे हुए स्थान पर लगा दें। लगाने के 6-7 सेकंड मे ही जलन, दर्द और सूजन खत्म हो जाता है। बिच्छू अक्सर महुआ के पेड़ मे ही ज्यादा रहते है और यही महुआ उसके ज़हर का एंटीडोट भी है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...