क्या आप जानते हैं फिट रहने के लिए हफ्ते में कितनी साइक्लिंग है जरूरी !

क्या आप जानते हैं फिट रहने के लिए हफ्ते में कितनी साइक्लिंग है जरूरी !

आपके पास एक्सरसाइज के लिए समय नहीं है तो कोई बात नहीं, सिर्फ आधे घंटे रोजाना साइकिल चलाएं और वर्कआउट जैसी फिटनेस पाएं। अगर आप शारीरिक श्रम के लिए साइकिल चला रहे हैं तो अच्छा है पर मेहनत की मात्रा अपने उम्र और फिलहाल के स्वास्थ्य को मद्देनजर रखते हुए ही करें। अगर तेज साइकिल चला रहे हैं तो समय कम रखें क्योंकि तेज साइकिल चलाना बहुत अच्छी कॉर्डियो एक्सरसाइज़ है, इससे पसीना जल्द आता है। इस दौरान आप जल्दी थक भी सकते हैं। वहीं अगर आप धीरे साइकिल चला रहे हैं तो आप समय ज्यादा लगाएं और एक निश्चित कैलरी बर्न करें।

दोनों ही स्थितियों में अपने खाने पर जबरदस्त नियंत्रण रखें। वजन कम करना आपके मेहनत करने के साथ-साथ आपके खाने पर भी आधारित है। अगर आपने यह कॉम्बिनेशन सेट कर लिया तो अच्छी परिणाम नजर आने लगेंगे। कैलरीज़ बर्न करने में मदद करने के साथ ही साइकिल चलाने से आप कई तरह की गंभीर बीमारियों से बच सकते हैं। जिसमें दिल से जुड़ी बीमारियां, स्ट्रोक, डायबिटीज, डिप्रेशन आदि शामिल है। साइक्लिंग एक लो-इंपैक्ट एक्सरसाइज है, जिसे हर उम्र के लोग एंजॉय कर सकते हैं। अगर आपकी सेहत अच्छी है तो आप 60 मिनट तक भी साइक्लिंग कर सकते हैं।

सेशन 1: 60 मिनट लंबी राइड

साइकिल से 60 मिनट का लंबा सफर तय करें। इससे आपकी सहनशक्ति में सुधार आएगा। धीमे चलाएं जिससे आपकी सांस गहरी, लयबद्ध और नियमित होनी जरूरी है। लंबी राइड करनी है तो सपाट सतह पर साइक्लिंग करें।

सेशन 2: 30 से 60 मिनट राइड

पहाड़ी इलाकों पर साइक्लिंग करना मुश्किल हो सकता है, इसलिए धीरे चलाएं। लंबे सफर के लिए तैयार होने के लिए 10 मिनट के लिए नॉर्मल स्पीड पर चलाएं और फिर 5 मिनट के लिए तेज चलाएं। इस सेशन में हार्ट बीट तेज़ होनी चाहिए। इसके लिए कोशिश करें कि 20 मिनट तेजी से साइकिल चलाएं।

सेशन 3: करें तेज साइक्लिंग

ज़ाहिर है तेज़ गति से साइकिल चलाने से आप ज्यादा से ज्यादा कैलरीज़ बर्न कर पाएंगे, साथ ही यह आपके दिल के लिए भी अच्छा साबित होगा। इस सेशन के दौरान आपको तेजी से पैडल चलाने होंगे। इसकी शुरुआत 10 मिनट के वॉर्मअप सेशन से करें और फिर 5 मिनट के लिए तेज पैडलिंग करें। इसके बाद 30 सेकंड का ब्रेक लें। फिर 5 मिनट के लिए धीरे-धीरे पैडल चलाएं और फिर इस सेशन को दोहराएं।

ध्यान दें

- एक अध्ययन के अनुसार, जो 20 मील तक हर हफ्ते साइकिल चलाते हैं, उनमें हार्ट डिज़ीज 50 प्रतिशत तक कम होता है।

- साइक्लिंग से स्ट्रोक की समस्या और कोरोनरी हार्ट डिज़ीज कम हो सकती है।

- यह डायबिटीज़ मिलाइटिस को भी कम करती है और ब्लड शुगर कंट्रोल में रहता है।

- लगातार फिज़िकल एक्टिविटीज से ब्रेस्ट कैंसर में भी कमी आती है।


Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...