घर में पैसों की बर्बादी लाती हैं ये 8 चीजें, जानें और करें इन्हें दूर

घर में पैसों की बर्बादी लाती हैं ये 8 चीजें, जानें और करें इन्हें दूर


वास्तु विज्ञान का व्यक्ति के जीवन में बड़ा महत्व माना जाता हैं। क्योंकि इसमें बताई गई बातें व्यक्ति के जीवन में आई परेशानियों का कारण बताती हैं और उन्हें दूर करने के उपाय भी। आज हम आपको वास्तु के अनुसार घर में उपस्थित कुछ ऐसी चीजों की जानकारी देने जा रहे हैं जो घर में पैसों की बर्बादी लाती हैं। ऐसे में इन चीजों को जानकर दूर करने की कोशिश की जानी चाहिए। तो आइये जानते हैं इनके बारे में।

घर के आगे पत्थरों का जमा होना

घर के आगे पत्थरों का जमा होना भी वास्तु विज्ञान के अनुसार सही नहीं होता है। इससे जीवन में तरक्की की रफ्तार कम हो जाती है। साथ ही इससे घर में पैसे आने के साधन भी कम हो जाते हैं।

सड़क से ऊंची दहलीज

वास्तु विज्ञान के अनुसार घर की दहलीज सड़क से ज्यादा ऊंची नहीं होनी चाहिए। इससे घर में रहने वालों की सेहत में उतार-चढ़ाव बना रहता है। घर की महिलाओं को कई तरह की परेशानियों का सामना करना होता है और रिश्तों में तालमेल की कमी होती है।

कांटेदार पौधे

घर के मेन गेट या बाहर कांटेदार पौधे नहीं होने चाहिए। वास्तु के अनुसार, इससे ना सिर्फ धन हानि होती है बल्कि यह स्वास्थ्य को भी नुकसान पहुंचाते है। इतना ही नहीं, इससे परिवार के लोगों में मनमुटाव भी बढ़ता है।

गंदे पानी का जमाव

वास्तु शास्त्र में कहा गया है कि घर के बाहर गंदे पानी का जमाव नहीं होना चाहिए, खासकर पश्चिम दिशा की तरफ। इससे धन का नुकसान होता है।

बिजली का खंभा

मुख्य द्वार के आस-पास बिजली का खंभा भी नहीं होना चाहिए। इससे परिवार के सदस्यों की उन्नति में बाधा आती है।

घना वृक्ष

घर के आगे घने वृक्ष का होना भी वास्तु दोष उत्पन्न करता है। साथ ही इससे परिवार की सेहत पर भी बुरा असर पड़ता है। इसके अलावा वास्तु के अनुसार, घर के आगे दूध निकलने वाले पौधे भी नहीं होने चाहिए।

घर की बाहरी दीवारों पर बेल का उगना

अगर आपकी घर की बाहरी दीवारों पर बेल उग गई है तो उसे तुरंत साफ कर दें। वास्तु के अनुसार यह शुभ नहीं माना जाता। इससे ना सिर्फ शत्रुओं की संख्या बढ़ती है बल्कि यह परिवार की उन्नति में भी बाधा बनता है।

घर के आगे कूड़ादान

घर के आगे कूड़ेदान का होना वास्तु विज्ञान के अनुसार सही नहीं होता। इससे घर में दरिद्रता का वास होता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...