हनुमानजी का कौन सा पाठ किन स्थितियों में करना होता है लाभदायी? जानिए कष्ट मुक्ति के सटीक उपाय

मंगलवार को पढ़ें हनुमानजी के 12 नाम, देते हैं 5 लाभ

वैदिक ग्रंथों के अनुसार देखा जाए तो मंगलवार का दिन बहुत ही शुभ माना जाता है। अगर इस दिन महाबली हनुमान जी की पूजा-आराधना की जाए तो इससे भक्तों का कल्याण होता है। मंगलवार के दिन मंदिरों के अंदर संकट मोचन हनुमान जी के दर्शन करने के लिए भक्तों की भारी भीड़ उमड़ती है। हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए भक्त हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं, इसके अलावा बहुत से उपाय भी करते हैं ताकि बजरंगबली का आशीर्वाद हमेशा बना रहे और जीवन के सभी कष्ट दूर हो सके।

ऐसा माना जाता है कि कलयुग में भी महाबली हनुमान जी जागृत देवता है और यह अपने भक्तों के सभी कष्ट दूर करते हैं। आज हम आपको हनुमान जी की कौन सी साधना से आपके जीवन के कौन से कष्ट दूर होंगे? इसके बारे में जानकारी देने जा रहे हैं।

हनुमान चालीसा का पाठ
अगर आप रोजाना नियमित रूप से प्रातः काल और संध्या के समय हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं तो इससे आपके जीवन के बहुत से कष्ट दूर होते हैं। जो व्यक्ति हनुमान चालीसा का पाठ करता है, उसके ऊपर से कारागार का संकट समाप्त होता है। अगर जाने-अनजाने में आपसे कोई गलत कार्य हो गया है तो आप हनुमान चालीसा का नित्य सुबह और शाम पाठ अवश्य करें। इससे हनुमान जी की कृपा दृष्टि आप के ऊपर बनी रहेगी।

बजरंग बाण का पाठ
मनुष्य अपने जीवन में बहुत सी परिस्थितियों से गुजरता है। कई बार मनुष्य अपने जीवन में कुछ ऐसे कार्य कर देता है जिसके कारण लोग उनसे नाराज हो जाते हैं और उनके शत्रुओं में वृद्धि होने लगती है। बहुत से लोगों को कोई भी बात स्पष्ट रूप से बोलने की आदत होती है, जिसके कारण गुप्त शत्रु उत्पन्न हो जाते हैं, इसके अलावा व्यक्ति की तरक्की से भी लोग अपने अंदर जलन की भावना रखते हैं। अगर आप इन सभी अवस्था में बजरंगबली का पाठ करते हैं तो आपको अपने शत्रुओं से छुटकारा मिलता है। जो व्यक्ति बजरंग बाण का पाठ करता है तो उसके शत्रुओं को उसके किए की सजा मिल जाती है।

हनुमान बाहुक का पाठ
अगर कोई व्यक्ति सिरदर्द, कंठ रोग, जोड़ों का दर्द, गठिया आदि जैसी समस्याओं से पीड़ित है तो ऐसी अवस्था में हनुमान बाहुक का पाठ करना लाभदायक माना जाता है। आप मुहूर्त देखकर हनुमान बाहुक का पाठ 26 या 21 दिनों तक कीजिए। प्रतिदिन आप पाठ करने के दौरान एक पात्र में जल लेकर हनुमान जी के समक्ष रखें और रोजाना इसका सेवन करें और पुनः दूसरा जल रख दीजिए। ऐसा करने से शारीरिक पीड़ा से मुक्ति मिलेगी और हनुमान जी का आशीर्वाद बना रहेगा।

हनुमान जी का चमत्कारिक शाबर मंत्र
महाबली हनुमान जी का शाबर मंत्र अत्यंत ही सिद्ध मंत्र माना जाता है। अगर व्यक्ति इस मंत्र का जाप करता है तो महाबली हनुमान जी तुरंत व्यक्ति की पुकार सुनते हैं। इस मंत्र का जाप करने से जीवन की तमाम परेशानियां, संकट, कष्टों से तुरंत मुक्ति मिलती है। आपको बता दें कि हनुमानजी के कई शाबर मंत्र है और अलग-अलग कार्यों के लिए इसका जाप किया जाता है।

हनुमान मंत्र
अगर व्यक्ति हनुमान मंत्र “हं हनुमंते नम:” का जाप करता है तो इससे भूत-प्रेत जैसी बाधाएं दूर होती है। यदि व्यक्ति को अंधेरे से डर लगता है तो हनुमान मंत्र का जाप करना लाभदायक माना गया है। आप रात को सोने से पहले हाथ-पैर और कान-नाक अच्छी तरह से धोकर पूर्व दिशा की तरफ अपना मुख करके 108 बार हनुमान मंत्र का जाप कीजिए, इससे आपको कुछ ही दिनों में लाभ मिलेगा।

Post a Comment

Previous Post Next Post