हनुमानजी की पूजा के दौरान रखें इन बातों का ध्यान, बुरे दिन हो जाएंगे दूर, मिलेगा विशेष आशीर्वाद

हनुमानजी की पूजा के दौरान रखें इन बातों का ध्यान, बुरे दिन हो जाएंगे दूर, मिलेगा विशेष आशीर्वाद

हनुमान जी को सबसे शक्तिशाली देवता माना जाता है। यह भगवान शिव जी के 11वें रुद्र अवतार हैं। हनुमान जी की पूजा-अर्चना का सबसे श्रेष्ठ दिन मंगलवार बताया गया है। ज्योतिष में भी हनुमान जी को मंगल का कारक देव माना गया है। इसके अलावा शनिवार के दिन भी हनुमान जी की पूजा करने का विधान है। ऐसा बताया जाता है कि जिस व्यक्ति के ऊपर हनुमान जी की कृपा दृष्टि बनी रहती है, उस व्यक्ति के जीवन के सभी संकट दूर होते हैं। संकट मोचन हनुमान जी बल-बुद्धि के दाता माने गए हैं। इनकी पूजा-आराधना से व्यक्ति का जीवन खुशहाल बनता है। जिस प्रकार भोलेनाथ साधारण पूजा से प्रसन्न हो जाते हैं, उसी प्रकार हनुमान जी रूद्र के अवतार होने की वजह से यह भी जल्दी प्रसन्न होते हैं।

महाबली हनुमान जी भगवान श्री राम जी के परम भक्त हैं। अगर आप हनुमान जी की पूजा करते हैं तो उस दौरान कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना बहुत ही आवश्यक है। अगर आप कुछ छोटी-छोटी बातों पर गौर करते हैं तो इससे हनुमान जी की कृपा दृष्टि आपके ऊपर हमेशा बनी रहेगी। राम भक्तों को इनकी पूजा में कोई भी भूल करने से बचना होगा।

आइए जानते हैं हनुमान जी की पूजा में किन बातों का रखें ध्यान

हनुमान जी को लाल रंग है प्रिय

राम भक्त हनुमान जी को लाल रंग अत्यधिक प्रिय है। अगर आप इनकी पूजा कर रहें हैं, तो उनकी पसंद का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी है।

आप इनकी पूजा में लाल रंग के फूल, लाल रंग का कपड़ा आदि इस्तेमाल करें।

हनुमान जी की पूजा में लाल और पीले रंग के कपड़ों का इस्तेमाल करना शुभ माना गया है।

आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि इनकी पूजा में आप काले या फिर सफेद रंग के कपड़े धारण मत कीजिए अन्यथा आपको पूजा का नकारात्मक फल मिलेगा।

हनुमान जी का ध्यान करते वक्त यह बातें ध्यान रखें


महाबली हनुमान जी को शांत प्रिय देवता माना जाता है, इसलिए इनकी साधना भी शांत मन से करें।

अगर आपको क्रोध आ रहा है तो ऐसी स्थिति में हनुमान जी की पूजा नहीं करनी चाहिए।

हनुमान जी की पूजा के समय आप अपने मन में गलत विचार उत्पन्न ना होने दें।

हनुमान जी की पूजा के दौरान आप अपना ध्यान इधर-उधर भटकने मत दीजिए। आपको अपनी पूजा में ध्यान लगाना होगा।

हनुमान जी की पूजा में इन चीजों का ना करें इस्तेमाल
आप हनुमान जी की पूजा में चरणामृत का इस्तेमाल ना करें, इसके अलावा बजरंगबली जी की खंडित या टूटी हुई मूर्ति की पूजा करने से बचना चाहिए।

हनुमान जी की पूजा करने के पश्चात आप मांस-मदिरा के सेवन से दूर रहें।

हनुमान जी की पूजा और व्रत रखने वाले भक्तों को इस बात का ध्यान रखना होगा कि व्रत वाले दिन आप नमक का सेवन ना करें।

इस तरह हनुमान जी जल्द होंगे प्रसन्न

जैसा कि हम सभी लोग अच्छी तरह जानते हैं की महाबली हनुमान जी श्री राम जी के परम भक्त हैं, इसलिए आप व्रत के पूरे दिन राम नाम की 108 माला जपे। इससे हनुमान जी प्रसन्न होंगे।

Post a Comment

Previous Post Next Post