जॉनी बेयरस्टो के तूफान में उड़ा आयरलैंड, इंग्लैंड ने मैच के साथ सीरीज भी अपने नाम की

जॉनी बेयरस्टो के तूफान में उड़ा आयरलैंड, इंग्लैंड ने मैच के साथ सीरीज भी अपने नाम की

इंग्लैंड ने 1 अगस्त को साउथैम्प्टन के रोज बाउल स्टेडियम में खेले गए वनडे में आयरलैंड को 4 विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही उसने 3 वनडे की सीरीज अपने नाम कर ली। इंग्लैंड ने सीरीज का पहला वनडे 6 विकेट से अपने नाम किया था। सीरीज का तीसरा वनडे 4 अगस्त को इस मैदान पर होगा।

इस मैच में आयरलैंड ने टॉस जीता और बल्लेबाजी का फैसला किया। उसने 50 ओवर में 9 विकेट पर 212 रन बनाए। इंग्लैंड ने 32.3 ओवर में 6 विकेट पर 216 रन बनाकर मैच जीत लिया। जॉनी बेयरस्टो मैन ऑफ द मैच चुने गए। इंग्लैंड की ओर से बेयरस्टो के अलावा सैम बिलिंग्स और डेविड विले ने टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई।

बेयरस्टो ने 14 चौके और 2 छक्के की मदद से 41 गेंद में 82 रन बनाए। बेयरस्टो ने सिर्फ 21 गेंद पर अपना अर्धशतक पूरा कर लिया था। इसके साथ ही उन्होंने वनडे इंटरनेशनल में अपने 3000 रन भी पूरे किए। उन्होंने 72वीं पारी में यह मुकाम छुआ। वह जो रूट के साथ संयुक्त रूप से इंग्लैंड के लिए सबसे कम पारियों में 3000 रन पूरे करने वाले बल्लेबाज बन गए। जो रूट ने भी 72 पारियों में 3000 वनडे रन पूरे किए थे। इन दोनों के बाद ग्राहम गूच, जेसन रॉय और केविन पीटरसन का नंबर आता है। इन तीनों ने 76 पारियों में 3000 वनडे रन पूरे किए थे।

इससे पहले लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की शुरुआत अच्छी नहीं रही। ओपनर जेसन रॉय बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए। लेकिन इसके बाद बेयरस्टो और जेम्स विंसे ने दूसरे विकेट के लिए 49 गेंद में 71 रन की साझेदारी की। इसमें विंसे के 16 रन थे। विंसे इसी स्कोर पर आउट हुए।

एक समय इंग्लैंड की स्थिति फिर खराब हो गई थी, जब 17.5 ओवर में उसके 137 रन पर 6 विकेट गिर चुके थे, लेकिन इसके बाद सैम बिलिंग्स और डेविड विले ने कमाल दिखाया। सैम बिलिंग्स और डेविड विले ने 7वें विकेट के लिए नाबाद 79 रन की नाबाद साझेदारी की। बिलिंग्स 46 और विले 47 रन बनाकर नाबाद रहे। आयरलैंड की ओर से जोशुआ लिटिल ने 3 विकेट लिए। वहीं, कर्टिस कैमफर ने 2 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई। एक विकेट क्रैग यंग के खाते में आया।

आयरलैंड की भी शुरुआत अच्छी नहीं हुई थी। हालांकि, पुछल्ले बल्लेबाजों के दम पर वह 200 रन का आंकड़ा पार करने में सफल रहा। डेब्यू मैच में नाबाद अर्धशतक लगाने वाले कर्टिस कैमफर ने इस मैच में भी फिफ्टी लगाई। उन्होंने 68 रन बनाए। वह टीम के हाइएस्ट स्कोरर भी रहे। यही नहीं, कैमफर ने वनडे इंटरनेशनल में आयरलैंड के लिए 7वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे बड़ा स्कोर बनाया। उन्होंने गैरी विल्सन का रिकॉर्ड तोड़ा। विल्सन ने 60 रन बनाए थे।

यही नहीं इस मैच में आयरलैंड के 7 से 11वें नंबर तक के बल्लेबाजों ने 119 रन बनाए। वनडे में आयरलैंड के लिए इन क्रमों पर बल्लेबाजी करने के लिए आए खिलाड़ियों का यह दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है। इससे पहले 2006 में बेलफास्ट में इंग्लैंड के खिलाफ आयरलैंड के 7 से 11वें नंबर के बल्लेबाजों ने 128 रन जोड़े थे।

इंग्लैंड की ओर से सबसे ज्यादा विकेट आदिल रशीद ने लिए। रशीद ने 34 रन देकर 3 विकेट झटके। वहीं साकिब महमूद ने 45 और डेविड विले ने 48 रन देकर 2-2 विकेट अपने नाम किए। रेसी टॉपले और जेम्स विंसे भी एक-एक विकेट लेने में सफल रहे। आयरलैंड की ओर से कैमफर के अलावा हैरी टेक्टर ने 28, सिमी सिंह ने 25, एंड्रयू मैकब्राइन ने 24 रन की पारी खेली।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...