सुबह दौड़ने के स्वास्थ्य लाभ।

सुबह दौड़ने के स्वास्थ्य लाभ।

रोजाना सुबह कम से कम से 30 मिनट दौड़ने से आप अपने शरीर को कई तरह से रोगो से बचाव कर सकते है। जैसा की आपको पता है आजकल लोग अपने कामो के चक्कर में अपने सेहत का ध्यान रखना भूल जाते है जिसके कारण उनको अनेको बीमारियों का सामना करना पड़ता है। इन सब समस्या से बचने के लिए आप सुबह उठने की आदत डाले और दौड़ना आरभ करे। क्योंकि दौड़ने से आपकी मांसपेशिया मजबूत तो होती है साथ में रक्त परिसंचरण में सुधार होता है। चिकिस्तक के अनुसार डायबिटीज और बीपी से पीड़ित लोगो को सुबह उठकर दौड़ना सेहत के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है की बाकि लोगो को फायदे नहीं बल्कि सभी को सुबह दौड़ना चाहिए। आज के इस लेख में हम आपको सुबह दौड़ने के स्वास्थ्य लाभ के बारे में विस्तार से बतायेंगे।

सुबह दौड़ने के फायदे क्या है ? 

दौड़ने के साथ किन बातो का ध्यान रखना चाहिए ?


सुबह दौड़ने के निम्नलिखत स्वास्थ्य लाभ है।

अस्थमा को ठीक करने में – 

अस्थमा के पीड़ित लोगो को रोजाना जल्दी उठकर दौड़ना चाहिए। इससे उनके स्वास्थ्य पर काफी अच्छा प्रभाव पड़ता है क्योंकि सुबह की हवा बहुत शुद्ध होती है जो फेफड़ो में जाती है। फेफड़े मजबूत होते है और श्वसन प्रक्रिया में सुधार होता है। इसलिए जो लोग नहीं दौड़ते है उनको दौड़ना चाहिए।

स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण दौड़ना – 

सुबह उठकर दौड़ने से शरीर को बहुत फायदा होता है। जब हम दौड़ते है तो शरीर में एंड्रोफिन रसायन उत्पादित होता है। इससे खुशी की भावना होने लगती है। यह तनाव को दूर रखने में मदद करता है। कुछ शोध में बतलाया गया है अगर व्यक्ति रोजाना दौड़ता है तो उसके शरीर में अलग से ताजगीपन आता है जो तनाव व अवसाद की भावना को कम करता है।

उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में – 

उच्च रक्तचाप के मरीजों को अपने खान-पान के साथ शरीर को फिट रखने का भी ध्यान देना पड़ता है। इसलिए चिकिस्तक अक्सर बीपी के मरीजों सुबह उठकर दौड़ने व व्यायाम करने की सलाह देते है। व्यक्ति के दौड़ने से शरीर में अलग तरह से ऊर्जा का निर्माण होता है जो शरीर के लिए लाभदायक होता है। शरीर की रक्तवाहिनी अच्छी तरह से अपना काम करती है और हृदय को भी स्वस्थ रखती है। हृदय स्वस्थ रहने से आपका रक्त चाप सामान्य रहता है। इसके अलावा गार्डन में लगी हरी घासो पर चलना भी अच्छा जोटा है। यह विटामिन की तरह शरीर में कार्य करता है व शरीर को फुर्तीला बनाता है। 

हड्डियों को मजबूत करने में – 

दौड़ने से हड्डियों पर दबाव पड़ने से खनिजों की अच्छी मात्रा में पूर्ति होती है, इससे हड्डिया मजबूत होती है। यह प्रक्रिया दौड़ने के दौरान होती है, यह हड्डियों के मजबूती को बढ़ाती है। सुबह दौड़ने से हड्डियों व मांसपेशियो का मसाज होता है, इससे हड्डियों से जुडी समस्या का जोखिम नहीं होता है। रोजाना सुबह उठकर आधा घंटा दौड़ लगाए।

शारीरिक मजबूती प्रदान करता है – 

शारीरिक मजबूती शरीर का बढ़ाने के लिए व्यक्ति को सुबह रोजाना दौड़ लगाना चाहिए। दौड़ लगाने से शरीर का निचला हिस्सा मजबूत होता है। बहुत से लोगो में शारीरिक मजबूती न होने से परेशान रहते है, उनको रोजाना 30 मिनट सुबह दौड़ना चाहिए। कुछ विशेषज्ञ के अनुसार दौड़ने पर शरीर के लिगामेंट्स और स्नायुतंत्र में मजबूती आती है, जो शारीरिक मजबूती देता है। 

मधुमेह को नियंत्रण में रखना –

 मधुमेह रोग से पीड़ित लोगो के लिए सुबह की दौड़ किसी दवा से कम नहीं है। सुबह दौड़ने से व्यक्ति के शरीर का मसाज होता है जो मांसपेसियों रक्तचाप व हड्डियों को मजबूत करता है। इसके अलावा श्वास की प्रक्रिया में सुधार करता है। चिकिस्तक मधुमेह के रोगियों को हमेशा हरी घास में चलने व दौड़ने की सलाह देते है। सुबह दौड़ने से मानसिक व शारीरिक रूप से आप मजबूत बनते है और शरीर का रक्त शर्करा का स्तर कम होता है, इसके परिणाम शुगर नियंत्रण में रहता है। 

वजन कम करने में – 

अक्सर लोग अपने वजन को लेकर परेशान रहते है व अनेको तरह के घरेलू उपचार का प्रयोग करते है, लेकिन डाइट के साथ-साथ व्यायम व दौड़ना जरुरी होता है। सुबह दौड़ने से शरीर का वजन कम होता है, क्योंकि दौड़ने से कैलोरी कम होती है जो आपके मोटापा को कम करने में मदद करता है। वजन कम करने के लिए आपको रोजाना थोड़े व्यायाम व दौड़ लगाना चाहिए। इस बात का ध्यान रखे सुबह के दौड़ने के साथ पोषक तत्वों को आहार में भी शामिल करे।

दौड़ने के साथ किन बातो का ध्यान रखना चाहिए ?
 

सुबह दौड़ने से पहले अपने शरीर को थोड़ा गर्म कर ले। इसके बाद थोड़े समय तक स्ट्रेचिंग करे।

स्ट्रेचिंग होने के बाद दौड़ना शुरू करे, लेकिन दौड़ने की गति एक जगह पर न रखे बल्कि बदल-बदल कर दौड़े।

दौड़ने के लिए सही साइज के जूते पहनने।

अपने आहार अधिक पौष्टिक तत्वों को शामिल करे। इसके अलावा पर्याप्त मात्रा में पानी पीये यानि दिन में छे से दस ग्लास पानी जरूर पीये।

Post a Comment

Previous Post Next Post