बारिश होने से पहले खुद ही बता देता है ये मंदिर, टपकने लगता है छत से पानी

बारिश होने से पहले खुद ही बता देता है ये मंदिर, टपकने लगता है छत से पानी

भारत में ऐसे कई सारे मंदिर है जो लोगों को हैरत में दाल देते हैं। भारत में ऐसे मंदिरों की भरमार है। आज हम इस खबर में आपको ऐसे ही एक मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं जो अपनी चमत्कारी शक्तियों के लिए दुनियाभर में जाना जाता है और इसमें ऐसी हैरतअंगेज शक्तियां हैं जिनके बारे में जानकार आप भी दांग रह जाएंगे।

दरअसल यह मंदिर उत्तर प्रदेश के कानपुर से 3 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बेहटा गांव में स्थित है जिसे जगन्नाथ मंदिर कहा जाता है। कहा जाता है कि यह मंदिर बारिश होने से पहली ही बता देता है कि बारिश होने वाली है। मंदिर की इस चमत्कारी शक्ति की वजह से ही लोग इसके दर्शन करने के लिए दूर-दूर से यहां पर पहुंचते हैं।

जानकारी के मुताबिक जब भी इस गांव में बारिश होने वाली रहती है उससे पहले ही मंदिर की छत से पानी टपकने लगता है जिससे यहां के लोगों को पता चल जाता है कि बारिश होने वाली है। छत टपकना कोई ख़ास बात नहीं है लेकिन जब गर्मी का मौसम होता है ये छत तब भी टपकने लगती है और उसके बाद बारिश भी होने लगती है। भगवान जगन्नाथ के इस प्राचीन मंदिर में ये घटना सालों से हो रही है।

इस गांव में रहने वाले लोगों के मुताबिक बारिश होने के 6 से 7 दिन पहले ही इस मंदिर की छत से पानी की बूंदे टपकने लगती है। सिर्फ इतना ही नहीं इस मंदिर से पानी की जो बूँद टपकती है उसका आकार जिस तरह का होता है बारिश में भी उसी तरह की बूंदे पड़ती हैं। जब मंदिर से पानी टपकना शुरू होता है तब यहां के किसान जमीनों को जोतने के लिए निकल पड़ते हैं।



किसानों को विश्वास है कि जब भी इस मंदिर की छत टपकती है, तो बारिश जरूर होगी। इस मंदिर की सबसे हैरान करने वाली बात ये है कि जब बारिश होती है तब इस मंदिर की छत अंदर से पूरी तरह से सूख जाती है और इसे देखकर ऐसा लगता है जैसे यहां कभी पानी गिरा ही नहीं था। यह मंदिर आज भी लोगों को हैरत में डालता रहता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...