गर्भावस्था के स्ट्रेच मार्क्स हटाने के ये है घरेलू नुक्से जानिए क्या है ?


pregnancy stretch marks

गर्भावस्था के समय पेट के पास स्ट्रेच मार्क्स का होना उन्हीं में से एक है और यह गर्भाशय में बच्चे के बढ़ने की वजह से होता है। डिलीवरी होने के बाद भी ये स्ट्रेच मार्क्स रह जाते हैं। गर्भधारण के समय अधिक वज़न बढ़ने या घटने की समस्या भी सामने आती है। वज़न बढ़ने के साथ ही त्वचा में खिंचाव आता है जिससे स्ट्रेच मार्क्स होते हैं। गर्भावस्था के अलावा काफी समय तक स्ट्रेच करने वाली कसरत करने की वजह से भी स्ट्रेच मार्क्स होते हैं।

ये मार्क्स तो समय के साथ जल्दी चले जाते हैं परन्तु गर्भावस्था के स्ट्रेच मार्क्स लम्बे समय तक रहते हैं। इन्हें हटाने के लिए कुछ ज़रूरी कदम लिए जाने आवश्यक हैं। आप स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए कुछ घरेलू नुस्खे इस्तेमाल कर सकते हैं।

एलोवेरा एक आसानी से उपलब्ध होने वाला पौधा है जिसकी पत्तियों में एक जेल जैसा तरल पदार्थ होता है। आप पत्तियों को दो भागों में तोड़कर उससे जेल निकाल सकते हैं। अब इस जेल को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं और आप देखेंगे कि आपके मार्क्स काफी तेज़ी से कम हो रहे हैं।

आपने बॉडी लोशन में शीया मक्खन की मात्रा देखी होगी और आप विश्वास नहीं करेंगे कि मक्खन में घाव भरने के अदभुत गुण होते हैं। अगर गर्भधारण की वजह से आपको स्ट्रेच मार्क्स की समस्या है तो शीया मक्खन एक बेहतरीन विकल्प है। आप इसे आसानी से बाज़ार और कॉस्मेटिक की दुकानों पर प्राप्त कर सकते हैं। क्योंकि ये मक्खन प्राकृतिक तत्वों से निकाला जाता है अतः इसे लगाने के बाद आप पाएंगे कि आपकी त्वचा नरम मुलायम हो गयी है और त्वचा में नयी जान आ गयी है।

खिंचाव के निशान – गर्भावस्था के तीन महीने होने से पहले अगर आप सारे पेट में तेल लगाकर धीरे धीरे रगड़ें तो इससे स्ट्रेच मार्क्स बढ़ने का ख़तरा कम हो जाएगा। पेट के अलावा आप अपनी जाँघों और छाती को भी तेल की मालिश दे सकते हैं जिससे की स्ट्रेच मार्क्स का खतरा टाला जा सके। आप कई प्रकार के तेलों में से अपना मनपसंद तेल चुन सकते हैं:-अरंडी का तेल, बादाम का तेल, नारियल का तेल, जैतून का तेल, विटामिन इ का तेल।

नीम्बू का रस – नीम्बू का रस आपकी त्वचा के स्ट्रेच मार्क्स हटाने में काफी बड़ी भूमिका निभाता है। यह प्राकृतिक रूप से अम्लीय होता है तथा स्ट्रेच मार्क्स, दाग और एक्ने को प्रभावी रूप से दूर करता है। एक ताज़ा नीम्बू लें और इसके दो टुकड़े करें। अब स्ट्रेच मार्क्स के ऊपर नीम्बू का रस गोलाकार मुद्रा में रगड़ें।इसे अपनी त्वचा पर 10 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद इसे गर्म पानी से धो लें। वैकल्पिक तौर पर खीरे और नीम्बू के रस को बराबर मात्रा में लेकर एक मिश्रण तैयार करें। इस मिश्रण का प्रयोग अपने स्ट्रेच मार्क्स पर करें।

तेल की मालिश ज़रूरी – इस तरीके का प्रयोग सदियों से स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए किया जाता है। एक एसेंशियल ऑइल लें और इसे बादाम या नारियल के तेल के साथ मिश्रित करें। इस मिश्रण का प्रयोग प्रभावित भागों पर करें और त्वचा में बदलाव देखें। आप अब बाज़ार में कई प्राकृतिक तेल प्राप्त कर सकते हैं। इनमें मुख्य हैं नारियल का तेल, जैतून का तेल, बादाम तेल आदि। इनमें से किसी भी एक का प्रयोग करें और स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। क्योंकि इन मार्क्स में सही पोषक तत्व जाते हैं, अतः इनके ठीक होने की प्रक्रिया तेज़ होती है। इस तेल से अच्छे से आधे घंटे तक मालिश करें और स्ट्रेच मार्क्स को गायब होता पाएं।

स्ट्रैच निशान हटाने के उपाय –पानी – स्ट्रेच मार्क्स कम करने के लिए शरीर में पानी की सही मात्रा का होना आवश्यक है। शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए रोज़ाना काफी मात्रा में पानी पियें।

स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के मॉइस्चराइज़र – त्वचा में मॉइस्चराइज़र लगांने से भी काफी फायदा मिलता है। त्वचा के हिसाब से मॉइस्चराइज़र चुनें। अगर आपकी त्वचा सूखी है तो कोको युक्त मॉइस्चराइज़र चुनें और तैलीय त्वचा वाले एलो वेरा के मॉइस्चराइज़र चुन सकते हैं। वीट जर्म आयल,एलो वेरा जेल और जैतून का तेल बराबर मात्रा में मिलाकर उसमें थोड़ी मिटटी मिलाएं और तैलीय त्वचा पर लगाएं। अगर आपकी त्वचा सूखी है तो इस नुस्खे का प्रयोग ना करें।

ग्लाईकोलिक एसिड – ग्लाईकोलिक एसिड से त्वचा में कोलेजन का उत्पादन अच्छे से होता है। यह त्वचा की लोच में वृद्धि करती है और स्ट्रेच मार्क्स को ढकती है। ग्लाईकोलिक एसिड एक अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड है और इसमें छीलने के गुण होते हैं। आप ग्लाईकोलिक एसिड की दवाइयां बाज़ार से प्राप्त कर सकते हैं। इनका प्रयोग करने से पूर्व डॉक्टर से सलाह कर लें।

विटामिन इ का तेल – विटामिन इ आपके स्ट्रेच मार्क्स को गायब कर देता है। विटामिन इ के तेल को किसी भी मॉइस्चराइजर के साथ मिलाएं और इनका प्रयोग स्ट्रेच मार्क्स पर करें। इस मिश्रण का प्रयोग सामान्य भाव से करें। इससे आपको मार्क्स पर बेहतरीन प्रभाव नज़र आएँगे। विटामिन इ की दवाइयों से विटामिन इ प्राप्त करें। इस मिश्रण में मॉइस्चराइजर आपकी त्वचा पर बेस के रूप में काम करेंगे। वैकल्पिक तौर पर आप कैस्टर ऑइल की मदद से मार्क्स पर मालिश कर सकते हैं।

खूबानी का मास्क – आप घर पर खूबानी का स्क्रब बना सकते हैं। इसके लिए आपको खूबानी और गुनगुना पानी चाहिए। सबसे पहले खूबानी को काटकर उसका बीज निकालें। अब इस फल को ब्लेंडर में पीसकर उसका पेस्ट बनाएं। अब इस पेस्ट को त्वचा पर लगाएं और 15-20 मिनट तक रखें।इसके बाद त्वचा को गुनगुने पानी से धो लें।

अंडे की सफेदी – अंडे की सफेदी प्रोटीन से युक्त होती है। अंडे की सफेदी का प्रयोग स्ट्रेच मार्क्स पर करने से त्वचा में नयी जान आती है। यह आपकी त्वचा पर काफी चमत्कारी सिद्ध होती है और इसे तरोताजा बनाकर रखती है। अंडे की सफेदी का प्रयोग स्ट्रेच मार्क्स पर दिन में 1 से 3 बार करने का प्रयास करें। यह आपकी त्वचा को साफ़ करता है तथा स्ट्रेच मार्क्स को दूर करता है। यह आपकी त्वचा के स्वास्थ्य में वृद्धि करता है और आप इसके प्रयोग से स्ट्रेच मार्क्स को धीरे धीरे गायब होता हुआ महसूस कर सकती हैं।

शहद – शहद में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो स्ट्रेच मार्क्स का इलाज करने में सहायक होते हैं। एक कपड़े का टुकड़ा लें और इसमें शहद लगाएं। इस कपड़े को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। इसे सूखने तक छोड़ दें। इसके बाद इसे गर्म पानी से धो लें। आप शहद के स्क्रब का प्रयोग भी कर सकते हैं और स्ट्रेच मार्क्स पर शहद और नमक के स्क्रब का प्रयोग करें। इसमें ग्लिसरीन का भी मिश्रण करें और स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। इसे 5 मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें और फिर पानी से धो लें।

चीनी का एक्सफोलिएट – चीनी स्ट्रेच मार्क्स का इलाज करने का काफी बेहतरीन प्राकृतिक नुस्खा है। चीनी की मदद से त्वचा की मृत त्वचा निकालें और स्ट्रेच मार्क्स को दूर करें। एक चम्मच चीनी में थोड़ा सा बादाम का तेल और थोड़ा सा नींबू का रस मिलाएं। इन्हें अच्छे से मिश्रित करें और स्ट्रेच मार्क्स तथा शरीर के अन्य भागों पर लगाएं। इस मिश्रण को त्वचा पर रोज़ाना कुछ मिनट तक नहाने से पहले घिसें। इसे एक महीने तक दोहराएं और एक महीने के अन्दर आप पाएंगे कि आपके स्ट्रेच मार्क्स हल्के हो गए हैं।

हल्दी व चन्दन – सदियों से हल्दी और चन्दन का प्रयोग त्वचा की देखभाल के लिए किया जाता है। यह मिश्रण त्वचा के स्वरुप को गोरा और समान बनाने के लिए जाना जाता है। इन उत्पादों का अगर काफी समय तक इस्तेमाल किया जाए तो स्ट्रेच मार्क्स की समस्या से मुक्ति पाई जा सकती है। चन्दन के पत्थर को पानी की मदद से घिसकर इसका पेस्ट बनाएं। 2 इंच ताज़ी हल्दी की जड़ को पीसकर एक महीन पेस्ट तैयार करें। इन दोनों उत्पादों को मिश्रित करके स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। इसे तब तक रखें जब तक ये 60 % सूख ना जाए। इसके बाद त्वचा को इस पैक से तब तक स्क्रब करें, जब तक ये सूख ना जाए और खुद से निकलने ना लगे। इस उपचार का प्रयोग कम से कम 6 महीने तक दिन में एक बार करें और त्वचा में आया निखार देखें।

दूध, चीनी का स्क्रब और हरा नारियल पानी – स्ट्रेच मार्क्स को स्क्रब करने से त्वचा में नयी जान आती है और यह स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने का काफी बेहतरीन उपाय है। यह स्क्रब त्वचा की रंगत को गोरा करने का काम करता है। हरे नारियल पानी में रोजाना प्रयोग करने से त्वचा के दाग धब्बे हटाने की भी क्षमता होती है, अतः इनकी मदद से स्ट्रेच मार्क्स दूर करना काफी आसान होता है।

स्क्रब बनाएं – 2 चम्मच कच्चा दूध लें, इसमें खीरे के रस की कुछ बूँदें और नींबू के रस की कुछ बूँदें मिलाएं। इस मिश्रण में आधा चम्मच चीनी के दाने मिलाएं और इसकी मदद से गोलाकार मुद्रा में त्वचा के प्रभावित भाग को स्क्रब करें। कम से कम 5 मिनट तक छोटा अंतराल लेकर स्क्रब करते रहें। अंत में इसे पानी से धो लें। हफ्ते में 3 बार से ज्यादा स्क्रबर का प्रयोग ना करें।

हरे नारियल के पानी का वाश – एक बार जब आपने प्रभावित भाग की त्वचा को स्क्रब कर लिया और सादे पानी से इसे धो लिया तो इसके बाद एक नर्म सूती के कपड़े से इसे अच्छे से सुखा लें। स्ट्रेच मार्क्स पर अच्छे से हरे नारियल के पानी का प्रयोग करें। इसे पूरी तरह सूखने दें। एक बार जब आपको त्वचा पर खिंचाव का अहसास होने लगे तो इसपर नारियल पानी को हटाए बिना एलोवेरा जेल या शे बटर का प्रयोग करें। सबसे पहले नारियल पानी से चेहरा धोएं और इसके बाद मोइस्चराइज़र का प्रयोग करें। इस प्रक्रिया का प्रयोग दिन में 2 से 3 बार करें, हालांकि इससे ज्यादा इस्तेमाल करने पर भी कोई हानि नहीं है।

आलू का रस – ऐसा कोई भी घर नहीं होगा, जहां आलू की खपत ना होती हो। अतः जब भी आप अपनी त्वचा को स्ट्रेच मार्क्स से रहित बनाना चाहें तो एक आलू लें, इसकी त्वचा छीलें और इसके छोटे टुकड़े करें। इसके बाद आलू को एक मिक्सर में पीस लें और इसका रस निकाल लें। आलू का गूदा भी उस जगह लगाया जा सकता है, जिधर आपको स्ट्रेच मार्क्स दिख रहे हों। आप आलू का रस निकालकर भी इसे स्ट्रेच मार्क्स पर लगा सकती हैं। इस रस को 5 से 10 मिनट के लिए त्वचा पर रखें और इसके बाद इसे अच्छे से धो लें। इसे हलके गर्म पानी से धोना भी काफी ज़रूरी है। आपको कुछ ही महीनों में फर्क पता चल जाएगा। क्योंकि स्ट्रेच मार्क्स दूर करने वाली क्रीम्स और लोशंस काफी महँगी होती है, अतः घरेलू नुस्खे ही श्रेष्ठ हैं।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...