सहवाग ने अपने साथी बल्लेबाज को दी थी सलाह, ’40-40 रन बनाओगे तो टीम से ड्रॉप हो जाओगे’

सहवाग ने अपने साथी बल्लेबाज को दी थी सलाह, ’40-40 रन बनाओगे तो टीम से ड्रॉप हो जाओगे’

भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने देश के लिए 10 टेस्ट मैच खेले हैं। आकाश चोपड़ा ने बतौर सलामी बल्लेबाज भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया है और उन्होंने वीरेंद्र सहवाग के साथ ओपनिंग की थी। चोपड़ा के पास गेंद को डिफेंस करने की दमदार तकनीक थी, लेकिन वे अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सफल नहीं हो पाए थे। अगर चोपड़ा अच्छा प्रदर्शन करते तो वे सहवाग के साथ लंबे समय तक टिक सकते थे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। वीरेंद्र सहवाग टेस्ट क्रिकेट के सफलतम सलामी बल्लेबाजों में से एक बन गए, जबकि चोपड़ा भारत की घरेलू क्रिकेट में सफल रह पाए।

आकाश चोपड़ा ने काफी समय पहले क्रिकेट को अलविदा कह दिया था और वे बतौर कॉमेंटेटर और क्रिकेट एक्सपर्ट क्रिकेट के खेल के साथ जुड़ गए। अब आकाश चोपड़ा ने एक बड़ा खुलासा किया है। 22 यार्न्स पॉडकास्ट में गौरव कपूर से बात करते हुए आकाश चोपड़ा ने कहा है कि उनके साथी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने उनको एक बड़ी सलाह दी थी, लेकिन वे उस पर अमल नहीं कर पाए थे। आकाश चोपड़ा ने सहवाग की बल्लेबाजी टेक्निक पर भी चर्चा की, लेकिन इसी दौरान उन्होंने बताया कि सहवाग ने उनसे कहा था कि बड़ा स्कोर बनाओ नहीं तो ड्रॉप हो जाओगे।

सहवाग ने अपने साथी बल्लेबाज को दी थी सलाह, ’40-40 रन बनाओगे तो टीम से ड्रॉप हो जाओगे’

वीरेंद्र सहवाग के पाकिस्तान दौरे को लेकर उन्होंने कहा, “वो आपको बताते थे कि यार बॉल ज्यादा स्विंग हो रहा है, आज मेरा नहीं चलेगा, तू उसी तरफ(स्ट्राइक) पर रहे। वो पूरी तरह से जानते थे कि ये मेरी स्ट्रेंथ नहीं है। देखिए, अपनी कमजोरियों और ताकतों को समझना बहुत महत्वपूर्ण है। जानना चाहिए कि आप क्या कर सकते हैं और क्या नहीं। वह जानते थे कि अभी बॉल स्विंग हो रहा है, फंस जाऊंगा। छोड़ न, अभी 5-7 ओवर निकल जाएंगे तो अच्छा है। वह जानते थे कि अगर वह टिक गए तो फिर किसी की खैर नहीं।” इस दौरान उन्होंने अपनी भी बात की।

आकाश चोपड़ा ने बताया कि वीरू दूसरे के बारे में ही नहीं, बल्कि खुद के बारे में भी ईमानदार थे। चोपड़ा ने बताया, “वह मेरे पास और मुझे बोला कि चोपड़ा जी ये 40-40 रन मार रहे हो ड्रॉप हो जाओगे टीम से। सेट होने के बाद आउट होने से कोई खेलता नहीं है आगे। यही बात वे खुद से भी कहते थे।” चोपड़ा ने बताया कि सहवाग, गंभीर और वे खुद महाराष्ट्र में एक घरेलू मैच खेलने गए थे, जहां चयनकर्ता आए हुए थे। उस दौरान वे काफी खराब फॉर्म में थे, लेकिन आकाश चोपड़ा और गौतम गंभीर रन बना रहे थे तो वीरू ने चयनकर्ता से कहा था कि मुझे ड्रॉप कर देना, लेकिन आकाश को चुन लेना। हालांकि, ऐसा हुआ नहीं था।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...