वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप पर पड़ेगा कोरोना का असर? फाइनल को लेकर जानिए क्या हैं ICC के विचार

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप पर पड़ेगा कोरोना का असर? फाइनल को लेकर जानिए क्या हैं ICC के विचार

कोविड-19 महामारी ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के कार्यक्रम पर संशय बना दिया है, जिस पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के महाप्रबंधन (खेल संचालन) ज्यौफ एलार्डिस ने कहा कि यह द्विपक्षीय श्रृंखलाओं के पुनर्निर्धारित होने की संख्या पर निर्भर करेगा।

कोरोना वायरस महामारी के कारण आईसीसी का भविष्य दौरा कार्यक्रम अव्यवस्थित हो गया है। इसकी वजह से टी20 विश्व कप को पहले ही स्थगित कर दिया है ताकि सदस्य देशों को अपनी द्विपक्षीय प्रतिबद्धताओं को पूरा करने के लिए समय दिया जा सके। एलार्डिस ने पीटीआई के सवाल के जवाब में कहा, ‘‘फिलहाल हम सदस्य देशों के साथ चर्चा कर रहे हैं कि श्रृंखलाओं के पुनर्निर्धारण पर उनकी योजना क्या है।’’

ऑस्ट्रेलिया का प्रथम श्रेणी का यह पूर्व क्रिकेटर इस मुद्दे पर अभी थोड़ा और इंतजार करना चाहता है। उन्होंने कहा, ‘‘ जाहिर है टीमों को जल्द से जल्द अपने पुनर्निर्धारित कार्यक्रम को तैयार करना होगा। फाइनल का समय तय करने से पहले हमें यह देखना होगा कि उपलब्ध समय के भीतर इसमें कितने (स्थगित श्रृंखला) को पुनर्निर्धारित किया जा सकता हैं। अभी तक हालांकि फाइनल जून 2021 में ही होना निर्धारित है।’’

उन्होंने कहा कि पुनर्निर्धारित कार्यक्रम को तैयार करने में आईसीसी सदस्यों के लिए सिर्फ समन्वयक की भूमिका निभा सकता है और वह सीधे तौर पर कार्यक्रम बनाने में शामिल नहीं होगा। उन्होंने साफ किया, ‘‘हम इसमें अधिक सक्रिय भूमिका नहीं निभा सकते। आईसीसी प्रतियोगिताओं के समन्वय में एक भूमिका निभाता है, लेकिन कार्यक्रम (द्विपक्षीय) निर्धारण के मसले में इसकी कोई भूमिका नहीं है।’’

उन्होंने स्वीकार किया कि कई देशों में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी पर ‘बहुत अनिश्चितता’ बनी हुई है क्योकि हर जगह स्थिति अलग है। एलार्डिस यह भी कहा कि 2018 में जब आईसीसी ने पहली बार एकदिवसीय लीग की योजना तैयार की थी, जब इस वैश्विक संस्था ने एकदिवसीय और टी20 अंतरराष्ट्रीय प्रारूप में संतुलन बनाने की कोशिश की थी।

उन्होंने कहा, ‘‘2017-18 में लीग के लिए नियम बनाये गये थे। उस समय फैसला लिया गया था कि तीन मैचों की टी20 अंतरराष्ट्रीय और इतने ही मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला होगी। पहले पांच एकदिवसीय और एक टी20 अंतरराष्ट्रीय होता था।’’

दक्षिण अफ्रीका में तीन टीमों के क्रिकेट (3टीसी) के प्रयोग के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘अभी आईसीसी की स्थिति यह है कि इस समय हमारे पास तीन अंतरराष्ट्रीय प्रारूप हैं लेकिन सदस्यों को नए प्रारूप को आजमाने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।’’

कोविड-19 के कारण महिला क्रिकेट के ज्यादा प्रभावित होने के बारे में पूछे जाने उन्होंने कहा, ‘‘महिला क्रिकेट उतना ही प्रभावित होता है जितना पुरुष क्रिकेट। आयोजन के लिए योजना को आगे बढ़ाया जा रहा है और स्थिति पर नजर रखी जा रही है।’’

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...