मनोज कुमार फैंस के बीच भारत कुमार के नाम से हैं मशहूर, जानिए इसके पीछे का कारण

मनोज कुमार फैंस के बीच भारत कुमार के नाम से हैं मशहूर, जानिए इसके पीछे का कारण

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता मनोज कुमार  आज अपना 83वां जन्मदिन मना रहे हैं। 24 जुलाई 1937 को पाकिस्तान के अबोटाबाद में जन्मे मनोज कुमार का असली नाम हरिकिशन गिरि गोस्वामी है, जिनका परिवार देश के बंटवारे के बाद राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में बस गया था। दर्शकों के बीच मनोज की फिल्में आज भी काफी लोकप्रिय हैं।

जानिए मनोज कुमार को क्यों कहा जाता है भारत कुमार




मनोज कुमार की फैन फॉलोइंग बेहद जबरदस्त थी, जिसके कारण आज के समय में भी फैंस उनकी फिल्मों को याद करते हैं। हालांकि, बहुत कम लोगों को मालूम है कि वो फैंस के बीच भारत कुमार के नाम से मशहूर हैं। दरअसल, मनोज ने अपने करियर में शहीद, उपकार, पूरब और पश्चिम और ‘क्रांति’ जैसी देशभक्ति पर आधारित अनेक बेजोड़ फिल्मों में काम किया। इसी वजह से उन्हें भारत कुमार भी कहा जाता है। मनोज कुमार की पहली फिल्म फैशन (1957) थी। मगर उन्हें फिल्म शहीद (1965) से लोकप्रियता मिलनी शुरू हुई।

अधिकतर देशभक्ति फिल्मों में किया अभिनय



उन्होंने अधिकतर देशभक्ति फिल्मों में अभिनय किया। वो एक फिल्म प्रोड्यूसर और डायरेक्टर भी थे, जिन्होंने देशभक्ति फिल्मों में अभिनय के साथ उन्हें निर्देशित भी किया। यही नहीं, मनोज कुमार ने बॉलीवुड को ‘हरियाली और रास्ता’ (1962), ‘वो कौन थी’ (1964), ‘शहीद’ (1965), ‘हिमालय की गोद में’ (1965), ‘गुमनाम’ (1965), ‘पत्थर के सनम’ (1967), ‘उपकार’ (1967), ‘पूरब और पश्चिम’ (1969), ‘रोटी कपड़ा और मकान’ (1974), ‘क्रांति जैसी हिट फिल्में दी थीं। उन्होंने बतौर लेखक भी काम किया।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...