भारत को नुकसान पहुंचाने के लिए चीन तैयार कर रहा हैं नया मॉडल

भारत को नुकसान पहुंचाने के लिए चीन तैयार कर रहा हैं नया मॉडल

एक तरफ जहां चीन वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारत के खिलाफ साजिश रच रहा है। वहीं दूसरी तरफ भारत को नुकसान पहुंचाने के लिए दूसरे मोर्चे पर भी नई-नई चालें चल रहा। अब चीन ने ब्रह्मपुत्र नदी को अपना हथियार बनाया है जिसके जरिए वो भारत को आघात पहुंचाना चाहता है। हालांकि भारत इन सभी चालबाजी को लेकर चौकस है।

ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि ब्रह्मपुत्र नदी में जो उफान इन दिनों देखने को मिल रही है वो महज प्रकृति का प्रकोप नहीं है। ये चीन की साजिश है। ये चीन के हथियार हैं जिनसे वो जब चाहे, जितना चाहे पानी छोड़ देता है और अपने पड़ोसियों को बर्बादी की कगार पर ला खड़ा करता है।



ब्रह्मपुत्र नदी में हर साल बाढ़ आती है जिससे करोड़ों रुपये की संपत्ति को नुकसान पहुंचता है। इस चीन प्रायोजित बाढ़ की वजह से हजारों लोगों का घर उजड़ जाता है। इसके लिए स्थानीय प्रशासन को जिम्मेदार ठहराया जाता है लेकिन इसके लिए असल जिम्मेदार चीन है।

ब्रह्मपुत्र नदी का कंट्रोल चीन के पास है क्योंकि ये नदी तिब्बत से निकलकर अरुणाचल प्रदेश और असम होते हुए नॉर्थ ईस्ट के बाकी राज्यों तक पहुंचती है। चीन ने ब्रह्मपुत्र पर कई बांध बनाए हैं और भारत में बाढ़ लाने की डोर अपने हाथों में रखता है। चीन की इस चाल को भारत बखूबी समझता है और इस मोर्चे भी अपनी ताकत बढ़ाने की कोशिश लगातार कर रहा है।



चीन ने हाल के सालों में तेजी से बांध बनाए हैं। एक अनुमान के मुताबित वहां 80 हजार से ज्यादा बांध हैं। वो ना सिर्फ बांध से पानी छोड़कर पूर्वोत्तर भारत के कई राज्यों में बाढ़ ला देता है बल्कि जब जरूरत होती है, पानी रोककर सूखे जैसे हालात भी पैदा कर देता है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...