कल भारत पहुंचेंगे पांचों राफेल विमान, वायुसेना की लड़ाकू क्षमताओं में होगी वृद्धि

कल भारत पहुंचेंगे पांचों राफेल विमान, वायुसेना की लड़ाकू क्षमताओं में होगी वृद्धि

भारतीय वायुसेना का इंतजार आखिरकार खत्म हो गया है। सोमवार को फ्रांस के एयरबेस से पांच राफेल लड़ाकू विमानों ने भारत के लिए उड़ान भर ली। इन विमानों को भारतीय वायुसेना के पायलट उड़ा रहे हैं। भारतीय वायुसेना से मिली ताजा जानकारी के अनुसार पांचों विमान संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के अल धाफरा एयरबेस पर पहुंच गए। ये विमान यहां रिफ्यूलिंग के लिए रुके हैं। पांचों विमान 7364 किलोमीटर की दूरी तय कर बुधवार को भारत पहुंचेंगे।



पांचों राफेल विमान 7364 किलोमीटर की हवाई दूरी तय करके बुधवार को अंबाला एयरबेस पहुंचेंगे। माना जा रहा है कि अगले हफ्ते इन पांचों विमानों की तैनाती चीन सीमा विवाद के मद्देनजर की जाएगी। ये पांच विमान भारत और फ्रांस के बीच हुए 36 विमानों के समझौते की पहली खेप है। अबतक वायुसेना के 12 लड़ाकू पायलटों ने फ्रांस में राफेल लड़ाकू जेट पर अपना प्रशिक्षण पूरा कर लिया है। कुछ और अपने प्रशिक्षण के उन्नत चरण में हैं।



चीन के साथ जारी सीमा विवाद के बीच राफेल विमान का भारत पहुंचना महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इससे भविष्य में राफेल विमानों की डिलीवरी में तेजी आने की उम्मीद है। वायुसेना अधिकारियों ने कहा कि राफेल विमानों के आने के बाद वायुसेना की लड़ाकू क्षमताओं में और वृद्धि होगी।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...