टूर्नामेंट को यूएई में कराने के लिए खेल मंत्रालय सहमत, अब गृह और विदेश मंत्रालय की अनुमति का इंतजार



खेल मंत्रालय ने आईपीएल को यूएई में करवाने के भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई ) के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। हालांकि, अब भी बीसीसीआई को आधिकारिक घोषणा करने के लिए गृह और विदेश मंत्रालय से मंजूरी मिलने का इंतजार है। यह जानकारी खेल मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी ने भास्कर को दी है।

आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के चेयरमैन ब्रजेश पटेल ने कहा कि बीसीसीआई ने यूएई के एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) को आईपीएल की मेजबानी के लिए स्वीकृति पत्र भेज दिया है। यूएई ने पत्र मिलने की पुष्टि भी कर दी है।

गृह और विदेश मंत्रालय से भी मंजूरी मिलना तय

अधिकारी ने बताया कि बीसीसीआई को खेल मंत्रालय से मंजूरी मिलने के बाद गृह और विदेश मंत्रालय से भी मंजूरी मिल जाएगी। यदि भारत से विवाद वाले किसी देश का खिलाड़ी आईपीएल में खेल रहा होता, तो शायद गृह और विदेश मंत्रालय से मंजूरी मिलने में दिक्कत हो सकती थी, लेकिन अभी ऐसा कुछ नहीं है। वहीं, यूएई से भी हमारे रिश्ते अच्छे हैं। ऐसे में वहां आईपीएल होने का रास्ता साफ हो गया है।

टीमों को टूर्नामेंट से 3-4 हफ्ते पहले तैयारी करनी होगी

बृजेश पटेल ने कहा, ‘‘हमने ईसीबी को स्वीकृति पत्र भेज दिया है। अब दोनों देशों के बोर्ड मिलकर टूर्नामेंट के सफलतापूर्वक आयोजन के लिए मिलकर काम करेंगे। सभी 8 टीमों के प्री-टूर्नामेंट ट्रेनिंग कैंप यूएई में बायो-सिक्योर माहौल में होंगे। टीमों को टूर्नामेंट के पहले कम से कम 3 से 4 हफ्ते पहले से तैयारी करनी होगी।’’

आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग इस हफ्ते होगी। इसमें लीग का शेड्यूल और एसओपी निर्धारित किए जाएंगे।

आईपीएल 3 वेन्यू पर, फिक्सिंग पर नजर रखना आसान

बीसीसीआई के एंटी करप्शन यूनिट (एसीयू) के हेड अजीत सिंह ने कहा था कि आईपीएल में भ्रष्टाचार को लेकर टेंशन लेने की जरूरत नहीं है। इस बार लीग सिर्फ तीन जगहों पर हो रही है, इसलिए मैच फिक्सिंग जैसी चीजों पर नजर रखना ज्यादा आसान होगा। आईपीएल के मैच यूएई में दुबई, अबु धाबी और शारजाह में होंगे, जबकि भारत में 8 वेन्यू होते है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...