सरहद पर गरजे पीएम मोदी, कहा- गलवान घाटी हमारी है, चीन को दी कड़ी चेतावनी



लद्दाख, 3 जून: चीन के साथ चल रही तनातनी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अचानक लद्दाख पहुँच गए, लद्दाख पहुंचनें के बाद पीएम मोदी ने सेना के अधिकारियों से मुलाकात की और पूरे हालात का जायजा लिया। इस दौरान सीडीएस जनरल विपिन रावत और आर्मी चीन जनरल मनोज मुकुंद नरवणे भी मौजूद रहे।

पीएम मोदी ने पहले नीमू पोस्ट पर सेना के अधिकारियों के साथ मीटिंग की, बता दें कि नीमू पोस्ट समुद्री तल से 11 हजार फीट की ऊंचाई पर मौजूद है, जिसे दुनिया की सबसे ऊंची और खतरनाक पोस्ट में से एक माना जाता है. मीटिंग के बाद पीएम ने सेना के जवानों को सम्बोधित किया।

सैनिकों को सम्बोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 'आपका ये हौसला, शौर्य और मां भारती के मान-सम्मान की रक्षा के लिए आपका समर्पण अतुलनीय है। आपकी जीवटता भी जीवन में किसी से कम नहीं है। जिन कठिन परिस्थितियों में जिस ऊंचाई पर आप मां भारती की ढाल बनकर उसकी रक्षा, उसकी सेवा करते हैं, उसका मुकाबला पूरे विश्व में कोई नहीं कर सकता।'

पीएम ने कहा, आपका साहस उस ऊंचाई से भी ऊंचा है, जहां, आप तैनात हैं। आपका निश्चय, उस घाटी से भी सख्त है, जिसको आप रोज अपने कदमों से नापते हैं। आपकी भुजाएं, उन चट्टानों जैसी मजबूत हैं, जो आपके इर्द-गिर्द हैं। आपकी इच्छा शक्ति आस पास के पर्वतों की तरह अटल हैं. जब देश की रक्षा आपके हाथों में है, आपके मजबूत इरादों में है, तो सिर्फ मुझे ही नहीं बल्कि पूरे देश को अटूट विश्वास है और देश निश्चिंत भी है, अभी जो आपने और आपके साथियों ने वीरता दिखाई है, उसने पूरी दुनिया में ये संदेश दिया है कि भारत की ताकत क्या है।

पीएम मोदी ने कहा - मैं गलवान घाटी में शहीद हुए सैनिकों को आज पुनः श्रद्धांजलि देता हूं। उनके पराक्रम, उनके सिंहनाद से धरती अब भी, उनका जयकारा कर रही है। आज हर देशवासी की सिर, आपके सामने आदरपूर्वक नमन करता है। आज हर भारतीय की छाती आपकी वीरता और पराक्रम से फूली हुई है।

इसके बाद चीन को चेतावनी देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आप उसी धरती के वीर हैं, जिसने हजारों वर्षों से अनेकों आक्रांताओं के हमलों और अत्याचारों का मुंहतोड़ जवाब दिया है। हम वो लोग हैं जो बांसुरीधारी कृष्ण की पूजा करते हैं, वहीं सुदर्शन चक्रधारी कृष्ण को भी अपना आदर्श मानते हैं। साथ ही पीएम ने कहा, गलवान घाटी हमारी, उसपर बुरी निगाह रखनें वालों का अंजाम बुरा होगा।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...