कील-मुहांसों से चेहरे पर पड़ने वाले निशान को हटाने और त्वचा को बेदाग रखने के लिए अपनाएं ये उपाय

कील-मुहांसों से चेहरे पर पड़ने वाले निशान को हटाने और त्वचा को बेदाग रखने के लिए अपनाएं ये उपाय

चेहरे पर बेदाग निखार लाने के लिए ज़्यादातर लड़कियां बड़े जतन करती हैं पर तमाम कोशिशों के बाद भी मुंहासे आ ही जाते हैं। ये मुंहासे भले ही एक सप्ताह से ज्य़ादा न रहें पर जाते-जाते चेहरे पर निशान छोड़ जाते हैं, जो देखने में काफी खराब लगते हैं। हालांकि इससे हमारी सेहत को कोई नुकसान नहीं होता लेकिन चेहरे पर पड़े निशान किसी को भी अच्छे नहीं लगते। जानते हैं कैसे बचें इस समस्या से।

क्यों होता है ऐसा

कील-मुंहासे यूं तो ऑयली स्किन वालों को ज्य़ादा होते हैं लेकिन कई बार ये वंशानुगत कारणों से भी हो सकते हैं। अगर घर में किसी बड़े की त्वचा ऑयली है तो बच्चों में भी ऐसा होने का खतरा बना रहता है। दरअसल, तैलीय त्वचा वाले ग्लैंड्स ज्य़ादा ऑयल छोड़ते हैं, जिससे धूप, धूल और पॉल्यूशन के संपर्क में आने पर त्वचा के पोर्स में गंदगी आसानी से जमा होने लगती है। इसी वजह से चेहरे पर कील-मुंहासे आ जाते हैं। स्किन ऑयली है तो उसकी सफाई का खास खयाल रखें।

न करें ज़्यादा एक्सपेरिमेंट


टोनर, क्लींज़र और स्क्रब का ज़्यादा इस्तेमाल हानिकारक हो सकता है। इससे त्वचा के ऑयल ग्लैंड्स ऐक्टिव हो जाते हैं, जिससे मुंहासे होने लगते हैं। टोनर और क्लींज़र को दिन में एक बार और स्क्रब को सप्ताह में एक बार इस्तेमाल करें। इसके अलावा, वॉटर बेस्ड मॉयस्चराइज़र ही इस्तेमाल करें।

स्ट्रेस न लें

तनाव की वजह से शरीर का हॉर्मोनल संतुलन बिगड़ जाता है। इससे भी मुंहासों की समस्या हो सकती है। ऐसे में अगर आप रोज़ाना आधा घंटा एक्सरसाइज़ या मेडिटेशन कर लेती हैं तो इससे भी आपको राहत मिल सकती है।

हो जाएं सतर्क

देर तक धूप के संपर्क में रहने के कारण भी कील-मुंहासों की समस्या से दो चार होना पड़ता है। इसलिए बार-बार मुंह धोते रहें, ताकि एक्स्ट्रा ऑयल निकल जाए। दवाओं के कारण भी मुंहासे हो सकते हैं। यदि किसी दवा के सेवन के बाद से चेहरे पर मुंहासे आ रहे हैं तो तुरंत एक्सपर्ट से संपर्क करें।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...