नहीं रही ‘मदर ऑफ डांस’ सरोज खान, जानिए बच्चे उनसे क्या ले सकते हैं सीख

नहीं रही ‘मदर ऑफ डांस’ सरोज खान, जानिए बच्चे उनसे क्या ले सकते हैं सीख

बॉलीवुड कोरियोग्राफर सरोज खान का गुरुवार देर रात कार्डियक अरेस्ट से 71 वर्ष की आयु में निधन हो गया. उनके निधन से फैंस के साथ-साथ इंडस्ट्री से जुड़े लोग गम में डूब गए हैं. सरोज खान के निधन से बॉलीवुड इंडस्ट्री में शोक की लहर है. इन पिछले कुछ दिनों में इंडस्ट्री ने कई बड़े कलाकारों को खोया है.

सरोज खान ने अपने करियर के दौरान करीब 2000 से अधिक गानों को कोरियोग्राफी किया. सरोज खान वो ‘डांस मास्टर’ थीं जिन्होंने तमाम कलाकारों को अपने इशारों पर नचवाया. सरोज खान कोरियोग्राफी और डांस की दुनिया में पहचान बनाने वालों के लिए एक आइडियल थीं. सरोज खान को ‘मदर ऑफ डांस’ के नाम से भी जाना जाता था. उन्होंने अपनी मेहनत और लगन से इंडस्ट्री में अपनी अलग पहचान बनाई. बच्चे और युवा ‘डांस मास्टर’ सरोज खान से काफी कुछ सीख सकते हैं.

 जिस तरह सरोज खान ने अपनी कड़ी मेहनत और लगन से दुनिया भर में नाम कमाया, बच्चे भी उन्हें देखकर परिश्रम करने की सीख ले सकते हैं. सरोज खान को देखकर ये सीख ली जा सकती है कि अगर कड़ी मेहनत की जाए तो सफलता जरूर हासिल होती है. बता दें कि सरोज खान को सर्वश्रेष्ठ कोरियॉग्रफी के लिए तीन बार राष्ट्रीय पुरस्कार मिला. सरोज खान ने आखिरी बार फिल्म ‘कलंक’ के सॉन्ग ‘तबाह हो गए’ को कोरियोग्राफ किया था.

सरोज खान ने ‘नच बलिए डांस’ रियेलिटी शो को जज किया था. फिर वह बतौर जज ‘झलक दिखला जा’ में नजर आईं थीं. सरोज खान ‘नचले विद सरोज खान’ शो में भी दिखी थीं. जिसमें वह डांस सिखाती नजर आईं थी. इसके अलावा भी वह अन्य शो का हिस्सा रहीं थीं.

बता दें कि पिछले महीने सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद उन्हें मुंबई के गुरु नानक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वह पिछले कुछ समय से कई स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से जूझ रहीं थीं. जिस वजह से उन्होंने अपने काम से एक लंबा ब्रेक लिया था. ‘डांस मास्टर’ सरोज खान ने गुरुवार देर रात हमेशा के लिए दुनिया को अलविदा कह दिया.

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...