पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड अपने पूर्व खिलाड़ियों को बनाना चाहता है अंपायर और मैच रेफरी

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड अपने पूर्व खिलाड़ियों को बनाना चाहता है अंपायर और मैच रेफरी

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड  ने बुधवार को पूर्व क्रिकेटरों को खेल के घरेलू सेटअप में उनकी भागीदारी बढ़ाने के लिए मैच अधिकारियों के पदों के लिए आवेदन करने के लिए आमंत्रित किया है। पीसीबी ने 2020-21 सीजन के लिए मैच अधिकारियों की भूमिकाओं के लिए 40 वर्ष से कम उम्र के उन पूर्व खिलाड़ियों से आवेदन आमंत्रित किए हैं, जिन्होंने कम से कम 50 प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं।

पीसीबी ने अपने बयान में कहा है, “यह सेवानिवृत्त यानी रिटायर्ड खिलाड़ियों के लिए अंपायर या मैच रेफरी के रूप में कैरियर के अवसरों को खोलता है, यह उनके लिए घरेलू संरचना के विभिन्न स्तरों पर अपने कौशल का सम्मान करने के बाद सीढ़ी पर चढ़कर अंतरराष्ट्रीय मैच अधिकारी बनने का मार्ग भी निर्धारित करता है।” वर्तमान में केवल अलीम दार ICC के मैच अधिकारियों के एलीट पैनल में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करते हैं।

अहसान रजा, शोजाब रजा, मोहम्मद आसिफ याकूब और राशिद रियाज वकार आइसीसी के अंतरराष्ट्रीय पैनल में हैं, जबकि आइसीसी के मैच रेफरी के एलीट वर्ग में कोई पाकिस्तानी नहीं है, अंतरराष्ट्रीय पैनल में मोहम्मद अनीस और मुहम्मद जावेद मलिक शामिल हैं। यही कारण है कि पीसीबी अब अपने पूर्व खिलाड़ियों को नौकरी देने के साथ-साथ उनके हुनर को भी आगे बढ़ाना चाहती है, जिससे कि वे विश्व क्रिकेट में भी नाम कमा सकें।

बोर्ड ने कहा है, “इन अवसरों का निर्माण घरेलू क्रिकेट सेटअप में पूर्व खिलाड़ियों की भागीदारी बढ़ाने और खेल के सभी पहलुओं में स्थानीय प्रतिभाओं को प्रशिक्षित करने और विकसित करने के पीसीबी के रणनीतिक निर्णय के अनुरूप है।” पीसीबी अधिकारियों द्वारा हाई परफॉर्मेंस प्रोग्रामम में विभिन्न कोचिंग भूमिकाओं के लिए आवेदन करने के लिए प्रोत्साहित करने के बाद हाल ही में मैच अधिकारियों के मौके आए हैं।

पीसीबी के निदेशक(हाई परफॉर्मेंस) नदीम खान ने कहा है, “पाकिस्तान क्रिकेट ने कुछ महान क्रिकेट दिमागों का उत्पादन किया है और अब समय है कि हम उनका उपयोग करें। एक क्रिकेटर खेल के हर बारीकियों को समझता है और उचित प्रशिक्षण के साथ एक मैच अधिकारी के रूप में एक बड़ी भूमिका निभा सकता है।” उन्होंने कहा कि पीसीबी हमारे अंपायरों और मैच रेफरियों के लिए अलग-अलग कोचिंग पाठ्यक्रम डिजाइन करेगा और उनके कौशल को बढ़ाने का काम करेगा।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...