मछुआरे के जाल में फंसी 800 KG की दुर्लभ मछली, 20 लाख रुपये में बिकी

मछुआरे के जाल में फंसी 800 KG की दुर्लभ मछली, 20 लाख रुपये में बिकी

एक फ्लाइंग शिप की तरह नजर आने वाली करीब 800 किलो की विशाल मछली पकड़ में आई है जो 20 लाख रुपये में बिकी. यह मछली बहुत दुर्लभ है जो इससे पहले इस इलाके में नहीं देखी गई थी. यह विशाल मछली पश्चिम बंगाल के दिघा में पकड़ी गई.



पश्चिम बंगाल के दिघा में एक ट्रॉलर से 780 किलोग्राम की मछली पकड़ में आई जिसका नाम चिलशंकर फिश है. फिशरमैन इस विशाल मछली को पकड़कर बहुत ही खुश हुए.



सोमवार को जिस ट्रॉलर से यह विशाल काले रंग की मछली पकड़ी गई, उस ट्रॉलर का मालिक ओडिशा का है. दिघा में जब यह मछली पकड़ी गई तो उसके आसपास लोकल टूरिस्ट की भीड़ सी लग गई. अपने भारी वजन के कारण मछली कोई मूवमेंट नहीं कर पा रही थी.



इस मछली को रस्सी से बांधकर एक वैन में रखा गया जो मोहाना फिशर एसोसिएशन से ली गई थी. इसकी जब मार्केट में बोली लगी तो 2100 रुपये प्रति किलोग्राम का भाव मिला. इस तरह मछुआरे को मछली की पूरी कीमत करीब 20 लाख रुपये मिली. लॉकडाउन के दौरान यह मछुआरे के लिए किसी लॉटरी निकलने की तरह है.



एक लोकल फिशरमैन अजिरुल ने बताया कि यह एक चिलशंकर फिश है जिसका वजन करीब 800 किलोग्राम है. इसकी मार्केट कीमत 2100 रुपये प्रति किलोग्राम है. हमने ऐसी बड़ी और दुर्लभ मछली आज से पहले कभी नहीं देखी है.



इस मछली के तेल और हड्डियों से दवाई बनाई जाती है. बाकी की हिस्सा मानसून के दौरान खाने की डिश की तरह इस्तेमाल होता है.

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...