स्टेडियम में 30-40% फैंस को एंट्री मिल सकती है, कमाई भी 10% तक कम हो सकती है

स्टेडियम में 30-40% फैंस को एंट्री मिल सकती है, कमाई भी 10% तक कम हो सकती है

6 साल बाद यूएई एक बार फिर मनी स्पिनर क्रिकेट लीग आईपीएल की मेजबानी के लिए तैयार है। आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के चेयरमैन ब्रजेश पटेल ने भी शुक्रवार को 19 सितंबर से 8 नवंबर की तारीखें लॉक कर दीं।

पहले लीग के मुकाबले मुंबई और उसके आसपास के सेंटर पर आयोजित करने की योजना थी। यूएई में 2014 में आईपीएल के 20 मैच खेले गए थे। इसलिए बीसीसीआई ने इस देश पर भरोसा दिखाया।

वैसे तो इस मिलियन-डॉलर वाली लीग में फैंस को एंट्री देने की उम्मीद कम है। लेकिन 30-40% फैंस को लाने का विकल्प खुला है। फैंस को स्टेडियम में आने की अनुमति मिलने की बात है तो यह सरकार तय करेगी और उसके लिए अलग प्रोटोकॉल भी बनाएगी।

एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड के जनरल सेक्रेटरी मुबािशर उस्मानी ने कहा, ‘हमें बीसीसीआई से आईपीएल को लेकर कोई अधिकारिक लैटर नहीं मिला है। लेकिन हम आईपीएल के आयोजन को तैयार हैं।’

अबुधाबी में टी-10 लीग खेली गई थी

यूएई में पिछली बार पिछले साल नवंबर में अबुधाबी टी-10 लीग हुई थी। तब से यूएई में न ही कोई लीग और न ही इंटरनेशनल क्रिकेट खेला गया है। आईपीएल का 13वां सीजन 29 मार्च से 24 मई तक होना था। लेकिन फिर उसे अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया था।

यूएई में पिछले साल नवंबर से नहीं खेला गया है क्रिकेट

दुबई, अबु धाबी, शारजाह में होंगे टूर्नामेंट के मुकाबले
आईसीसी कॉम्प्लेक्स में 38 विकेट, ट्रेनिंग यहीं होगी

1. 3 शहरों में मैच, यहां बस से जाने की सुविधा

यूएई में बेहतर बुनियादी ढांचा, प्रैक्टिस सुविधाएं और फ्लाइट कनेक्टिविटी बढ़िया है। मुकाबले अबु धाबी, दुबई और शारजाह में होंगे। ये तीनों शहर आसपास ही हैं। अधिकतर खिलाड़ी दुबई में रुकना पसंद करते हैं, जहां से शारजाह सिर्फ 30 मिनट की ड्राइव और अबु धाबी डेढ़ घंटे की ड्राइव पर है। खिलाड़ी टीम बस से भी जा सकते हैं।

2. 15 दिन का अनिवार्य क्वारैंटाइन पीरियड नहीं

पिछले हफ्ते यूएई में कोरोना के सिर्फ 300 केस थे। यूएई ने इंटरनेशनल बॉर्डर 7 जुलाई को खोल दी थीं। वहां 15 दिन का अनिवार्य क्वारैंटाइन पीरियड भी नहीं है। अगर कोई व्यक्ति यूएई में प्रवेश करना चाहता है तो उसे सिर्फ अपने कोविड टेस्ट में निगेटिव आने की रिपोर्ट दिखानी है। इससे टीमों को कैंप लगाने में आसानी होगी।

3. बायो-सिक्योर माहौल बनाया जा सकता है

यूएई में बायो-सिक्योर माहौल भी तैयार किया जा सकता है। दुबई स्पोर्ट्स सिटी में इंटरनेशनल स्टेडियम और आईसीसी एकेडमी भी है, जो लीग के वेन्यू हो सकते हैं। यहां पर नौ विकेट हैं। आईसीसी कॉम्प्लेक्स में ही अकेले 38 विकेट हैं। यहां 2 ग्राउंड भी हैं। बोर्ड ट्रेनिंग और नेट सेशन के लिए आईसीसी एकेडमी का ग्राउंड भी ले सकता है।

दुबई में मैरियट में रुकेंगे मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी

फ्रेंचाइजी ने अपना बेस सेटअप करना शुरू कर दिया है। जे डब्ल्यू मैरियट ग्रुप मुंबई इंडियंस का कमर्शियल पार्टनर है। इसलिए इस फ्रेंचाइजी की प्लानिंग दुबई में इसी होटल में रुकने की है। बीसीसीआई और अन्य फ्रेंचाइजी ने भी कुछ होटल देखे हैं।

एड रेवेन्यू 10-20% तक गिर सकता है

फैंस के बीच लोकप्रियता के बावजूद स्पॉन्सर्स की आईपीएल में रुचि पिछले साल की तुलना में कम ही रहेगी। भारत की मीडिया ऑडिट और एडवाइजरी फर्म स्पेटियल एक्सेस की फाउंडर मीनाक्षी मेनन के मुताबिक, ‘आईपीएल 2020 पिछले साल की तरह लाभ का सौदा नहीं होगा।’ एक्सपर्ट्स के अनुसार, एडवरटाइजिंग में 10-20% की गिरावट आ सकती है क्योंकि बिजनेस कोविड-19 के कारण पिछले साल जैसा नहीं है।

ऑनलाइन से 1700 करोड़ कमा सकता है

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, आईपीएल ऑनलाइन फर्म पर एडवरटाइजमेंट से 1500 से 1700 करोड़ रुपए तक की कमाई कर सकता है। ऑनलाइन फर्म जैसे ई-कॉमर्स, ईडी टेक, वीडियो ऑन डिमांड सर्विस और आनॅलाइन गेमिंग से बड़ी कमाई हो सकती है।

स्टार के ऑनलाइन वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म हॉट स्टार को अच्छा करने की उम्मीद है। वह उन ब्रांड्स को बंडल ऐड डील बेचेगा, जो विज्ञापन पर 400 करोड़ रुपए तक खर्च कर सकते हैं।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...