श्रीलंका पुलिस ने बंद की जांच, आईसीसी ने कहा, ‘2011 वर्ल्ड कप फाइनल पर संदेह का कोई कारण नहीं’

श्रीलंका पुलिस ने बंद की जांच, आईसीसी ने कहा, ‘2011 वर्ल्ड कप फाइनल पर संदेह का कोई कारण नहीं’

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने शुक्रवार को कहा कि विश्व कप 2011 के फाइनल की अखंडता पर संदेह करने का कोई कारण नहीं है जिसमें भारत ने श्रीलंका को हराया था। आईसीसी ने कहा कि इस मैच से ऐसा कोई सबूत नहीं मिलता जिससे इसकी जांच की जाए। श्रीलंका पुलिस के विशेष जांच विभाग ने शुक्रवार को इस संबंध में जांच बंद कर दी जिसके बाद विश्व क्रिकेट संस्था का बयान आया है।




श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री महिंदानंदा अलुथगामगे ने आरोप लगाया था कि श्रीलंका में कुछ पक्षों ने फाइनल को फिक्स किया था जिसके बाद श्रीलंका पुलिस ने जांच की थी। पुलिस ने कहा कि उसे अलुथगामगे के निराधार दावों के पक्ष में कोई सबूत नहीं मिले।




2011 वर्ल्ड कप फाइनल पर संदेह का कोई कारण नहीं: आईसीसी एसीयू

आईसीसी भ्रष्टाचार निरोधक इकाई (एसीयू) के महाप्रबंधक अलेक्स मार्शल ने बयान में कहा, ‘‘हमारे पास आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप फाइनल 2011 की अखंडता पर संदेह करने के लिये कोई कारण नहीं है। आईसीसी इंटीग्रिटी यूनिट ने विश्व कप फाइनल 2011 को लेकर हाल के आरोपों पर गौर किया है।’’




एसीयू प्रमुख ने कहा, ‘‘इस समय हमारे सामने दावे के समर्थन में ऐसा कोई सबूत पेश नहीं किया गया जिससे लगे कि आईसीसी भ्रष्टाचार निरोधक संहिता के तहत जांच शुरू करनी चाहिए। ’’ पूर्व श्रीलंकाई मंत्री के इस दावे को भी मार्शल ने बकवास करार दिया जिसमें उन्होंने कहा था कि आईसीसी को फिक्सिंग के आरोपों से संबंधित पत्र भेजा गया था।




मार्शल ने कहा, ‘‘श्रीलंका के तत्कालीन खेल मंत्री द्वारा इस संबंध में आईसीसी को पत्र भेजने का कोई रिकार्ड नहीं है और उस समय आईसीसी में कार्यरत वरिष्ठ कर्मचारियों ने भी पुष्टि की उन्हें ऐसा कोई पत्र प्राप्त करने की याद नहीं है जिसके कारण जांच हुई होगी। ’’ उन्होंने दोहराया कि आईसीसी मैच फिक्सिंग से जुड़े सभी आरोपों को गंभीरता से लेती है।

Post a Comment

Previous Post Next Post
loading...
loading...